दिल्ली जेल में कोविड-19 के संक्रमण से 62 वर्षीय कैदी की मौत


दिल्ली की मंडोली जेल में 62 वर्षीय एक कैदी की कोरोना वायरस से मौत हो गयी है जो राष्ट्रीय राजधानी की जेल में इस महामारी से पहली मौत है। उसके बाद अधिकारियों ने बैरक में इस व्यक्ति के साथ रह रहे 28 अन्य कैदियों की जांच कराने का फैसला किया है। ताजा समाचार के अनुसार अधिकारियों ने रविवार को बताया कि कंवर सिंह (62) की 15 जून को मृत्यु हो गयी और शनिवार को उसकी कोविड-19 जांच में संक्रमण की पुष्टि हुई।


अधिकारियों के अनुसार सिंह 2016 के हत्या के एक मामले में उम्रकैद की सजा काट रहा था। वह मंडोली की केंद्रीय जेल में था और उसमें बीमारी के लक्षण सामने नहीं आये थे।


अधिकारियों के अनुसार 15 जून को उसके बैरक के कुछ लोगों ने उसे जगाने की कोशिश की लेकिन उसके शरीर में कोई हरकत नजर नहीं आयी। तब जेलकर्मी उसे डॉक्टर के पास ले गये जिसने उसे मृत घोषित कर दिया।


महानदेशक (दिल्ली जेल) संदीप गोयल ने कहा कि मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट द्वारा परीक्षण किया गया और कोविड-19 जांच भी की गयी। शनिवार को जांच रिपोर्ट में कोविड-19 संक्रमण सामने आयेगा।अधिकारियों के मुताबिक वैसे अब तक यह पता नहीं चल पाया है कि वह कैसे संक्रमित हुआ। जिस बैरक में वह रहता था उसके 28 सदस्यों का कोविड-19 परीक्षण किया जा रहा है।


दिल्ली में तिहाड़, रोहिणी और मंडोली में जेल हैं। अब तक इन जेलों के 23 बंदी कोविड-19 से संक्रमित पाये गये हैं जिनमें से 16 स्वस्थ हो गये और एक की मौत हो गयी।अधिकारियों के अनुसार अब तक 45 जेलकर्मी संक्रमित पाये गये हैं। उनमें से सात स्वस्थ हो चुके हैं।