प्रदेश में कोरोना के 4948 मामले एक्टिव

प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में टेस्टिंग क्षमता निरन्तर बढ़ रही है।  अब तक की एक दिन में सर्वाधिक 15,762 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में अब तक कुल 4.56 लाख से अधिक सैम्पल की जांच की जा चुकी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश के 75 जनपदों में 4,948 कोरोना के मामले एक्टिव हैं। उन्होंने बताया कि अब तक 8,268 मरीज पूरी तरह से उपचारित हो चुके हैं। प्रदेश में वर्तमान में करोना संक्रमण का रिकवरी दर 60.72 प्रतिशत से अधिक है। पूल टेस्ट के अन्तर्गत कुल 1243 पूल की जांच की गयी, जिसमें 1134 पूल 5-5 सैम्पल के तथा 99 पूल 10-10 सैम्पल के रहे। 

उन्होंने  बताया कि आशा वर्कर्स द्वारा अब तक 16,23,027 लाख कामगारों, श्रमिकों से उनके घर पर जाकर सम्पर्क किया गया। उनके अनुसार  ग्राम एवं मोहल्ला निगरानी समितियों के द्वारा निगरानी का कार्य सक्रियता से किया जा रहा है। अब तक   1.20 लाख सर्विलांस टीम द्वारा 91,48,721 घरों के 4.66 करोड़ लोगों का सर्वेक्षण किया गया है। उन्होंने बताया कि आरोग्य सेतु ऐप से जो अलर्ट जनरेट आने पर कन्ट्रोल रूम द्वारा निरन्तर फोन किया जा रहा है, अब तक 79,582 लोगों को कन्ट्रोल रूम द्वारा फोन कर जानकारी प्राप्त की गयी। उन्होंने बताया कि मल्टी स्टोरी टाॅवर के किसी स्टोरी पर संक्रमण मिलने पर उस बिल्डिंग को 21 दिन के बजाय 14 दिन के लिए सील किया जायेगा। उन्होंने बताया कि किसी घर से एक से ज्यादा संक्रमण के केस आने पर उस एरिया का 250 मीटर रेडियस या उस मोहल्ले को कन्टेन्मेन्ट जोन बनाया जायेगा।