पांच राज्‍यों में बढ़ा कोविड-19 का प्रकोप

 पांच राज्‍यों महाराष्‍ट्र, पंजाब, कर्नाटक, गुजरात और तमिलनाडु में कोविड-19 के  नये मामलों में बढ़ोतरी के रुझान लगातार मिल रहे हैं।पिछले 24 घंटों में कुल मिलाकर 78.41 प्रतिशत नये मामले सामने आए हैं। 

पिछले 24 घंटों में 26,291 नये मामले दर्ज किए गए हैं। 

महाराष्‍ट्र में 16,620 (दैनिक नये मामलों का 63.21 प्रतिशत) दैनिक नये मामले दर्ज किए गए हैं, जो दैनिक नये मामलों में अधिकतम है। इसके बाद 1,792 और 1,492 नये मामलों के साथ क्रमश: केरल और पंजाब का स्‍थान है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001859I.jpg

    

आठ राज्‍यों में दैनिक आधार पर कोरोना मामलों में लगातार बढ़ोतरी देखी जा रही है। ये राज्‍य हैं- महाराष्‍ट्र, तमिलनाडु, पंजाब, मध्‍यप्रदेश, दिल्‍ली, गुजरात, कर्नाटक और हरियाणा।

पिछले एक महीने में केरल में निरंतर नये मामलों में गिरावट के रुझान हैं।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image0024LRB.jpghttps://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image0032RMG.jpg

भारत में कोविड-19 के कुल सक्रिय मामले आज 2,19,262 तक पहुंच गए हैं, जो अब तक के कुल संक्रमित मामलों का 1.93 प्रतिशत है।

तीन राज्‍यों महाराष्ट्र, केरल और पंजाब में भारत के कुल संक्रमित मामलों का 77 प्रतिशत हिस्‍सा हैं।

केवल महाराष्‍ट्र में देश के कुल संक्रमित मामलों के 58 प्रतिशत से अधिक मामले पाये गये हैं।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image004R7LU.jpg

नीचे दिये गए ग्राफ में 18 जनवरी, 2021 से प्रतिदिन कोरोना के संक्रमण के मामलों में बदलाव को दर्शाया गया है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image005QWJJ.jpg

दूसरी ओर, भारत 3 करोड़ के कुल टीकाकरण के लक्ष्‍य की ओर तेजी से बढ़ रहा है।

 प्राप्‍त अनंतिम रिपोर्ट के अनुसार देश में 5,13,065 सत्रों के जरिये 2,99,08,038 वैक्‍सीन की डोजलोगों को दिए जा चुकी है।

इनमें 73,55,755 एचसीडब्ल्यू (पहली डोज), 43,05,118 एचसीडब्ल्यू (दूसरी डोज), 73,40,423 एफएलडब्ल्यू (पहली डोज) और 11,50,535 एफएलडब्ल्यू (दूसरी डोज), 45 वर्ष से अधिक आयु के अन्‍य रोगों से ग्रस्त 14,64,014 लाभार्थी (पहली डोज) और 60 वर्ष से अधिक आयु वाले 82,92,193 लाभार्थियों को दी गई डोज शामिल हैं।

 

स्वास्थ्यकर्मी

एफएलडब्ल्यू

45 से 60 वर्ष के कम गंभीर बीमार लाभार्थी

60 वर्ष के अधिक आयु के लाभार्थी

कुल

पहली खुराक

दूसरी खुराक

पहली खुराक

दूसरी खुराक

पहली खुराक

पहली खुराक

73,55,755

43,05,118

73,40,423

11,50,535

14,64,014

82,92,193

2,99,08,038

 

टीकाकरण अभियान के 58वें दिन (14 मार्च, 2021) 1,40,880 वैक्सीन की खुराक दी गईं। रविवार का दिन होने के कारण अधिकांश राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों ने कल टीकाकरण सत्रों का आयोजन नहीं किया।

इनमें से 1,20,885 लाभार्थियों को 22,11 सत्रों के जरिये वैक्‍सीन की पहली डोज दी गई (एचसीडब्‍ल्‍यू एवं एफएलडब्‍ल्‍यू) और 19,995 एचसीडब्‍ल्‍यू एवं एफएलडब्‍ल्‍यू को वैक्‍सीन की दूसरी डोज दी गई।

14मार्च 2021

स्वास्थ्यकर्मी

फ्रंटलाइन वर्कर्स

45-60 साल से अधिक उम्र के गंभीर बीमारियों से पीड़ित लाभार्थी

60 वर्ष से अधिक उम्र के लाभार्थी

कुल लाभार्थी

पहली खुराक

दूसरी खुराक

पहली खुराक

दूसरी खुराक

पहली खुराक

पहली खुराक

पहली खुराक

दूसरी खुराक

7,141

8,771

7,201

11,224

16,884

89,659

1,20,885

19,995

 

भारत में कुल मिलाकर 1,10,07,352 कोविड संक्रमित मरीज आज तक ठीक हुए हैं। राष्‍ट्रीय स्‍तर पर संक्रमण से मुक्‍त होने की दर 96.68 प्रतिशत है।

पिछले 24 घंटों में 17,455 संक्रमित मरीज ठीक हुए हैं। 6 राज्‍यों में 84.10 प्रतिशत ऐसे मामले पाए गए हैं।

महाराष्‍ट्र में एक दिन में अधिकतम 8,861 संक्रमित मरीज ठीक हुए हैं।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image006J3XU.jpg

पिछले 24 घंटों में कोविड से 118 लोगों की मौत हुई है।

मौत के नए मामले 82.20 प्रतिशत छह राज्यों से संबंधित हैं। महाराष्ट्र में सबसे अधिक 50 मरीजों की मौत हुई। इसके बाद पिछले 24 घंटों में पंजाब और केरल का स्‍थान है, जहां क्रमश: 20 और 15 मरीजों की मौत हुई है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image007O3DN.jpg

पिछले 24 घंटों में 16 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में कोविड-19 से किसी भी व्यक्ति की मौत की सूचना नहीं मिली है। इन राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में असम, चंडीगढ़, जम्‍मू-कश्‍मीर (केन्‍द्रशासित प्रदेश), झारखंड, लक्षद्वीप, सिक्किम, लद्दाख (केन्‍द्रशासित प्रदेश), मणिपुर, दादरा और नगर हवेली, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड, त्रिपुरा,अंडमान और निकोबार द्वीपसमूहऔर अरूणाचल प्रदेशशामिल हैं।