लखनऊ में जिस्म फरोशी का अड्डा, सरगना बस्ती का !

सूबे का बस्ती जिला फिर चर्चा में आ गया है, इसकी आबरू को नर पिशाच तार-तार कर रहे हैं। हत्या, रेप जैसी तमाम वारदातों से इस जिले की छवि पर दाग लगते ही रहे हैं। एक बार फिर बदनुमा दाग सेक्स रैकेट के नाम पर लगा है, लेकिन इस रैकेट का संचालन सूबे की राजधानी लखनऊ के चिनहट चल रहा था, और इसका मास्टर माइंड बस्ती निवासी समीर था। हालांकि चिनहट पुलिस ने इस नेटवर्क का भांडा फोड़ दिया है, मौके से पुलिस ने पांच युवतियां जो कि आसाम की रहने वाली थीं व दो युवक को हिरासत में ले लिया। लेकिन मास्टर माइंड समीर अभी भी फरार है। समीर कौन हैं, कहां का रहने वाला है, इसके लिए पुलिस अपना जाल बिछा रही है, देखना यह है कि क्या पुलिस उसे गिरफ्तार करने में कामयाब हो पाती है।

पांच से 30 हजार में भेजी जाती थी लड़कियां 

- लखनऊ पुलिस के अनुसार गिरफ्तार युवकों व युवतियों से पूछताछ पर उन्होंने बताया कि लड़कियों को पांच से 30 हजार रूपये में रसूखदार लोगों को भेजी जाती थीं। युवक इन युवतियों की फोटो सोशल मीडिया के जरिए रसूखदार लोगों तक भेजते थें, जो अपने पसंद की लड़कियों को चुनते थे। 

किराए के मकान में चल रहा था रैकेट 

- प्रभारी निरीक्षक चिनहट धनंजय पांडेय के मुताबिक, कॉलोनी में 15 हजार रुपये किराए के मकान में रैकेट चल रहा था। आरोपियों को मकान मालिक का नाम नहीं मालूम है। इससे पहले  संदेह होने पर आरोपी चिनहट चले आए थे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मिर्च की फसल में पत्ती मरोड़ रोग व निदान