अच्छी बारिश की संभावना,समय से पहले आ जाएगा मानसून

 देश के कई राज्यों में तबाही मचाने वाला टाक्टे तूफान मानसून की रफ्तार पर कोई ब्रेक नहीं लगा पाएगा। दक्षिणी पश्चिमी मानसून अपनी तय तिथि से एक-दो दिन पहले ही केरल में दस्तक दे देगा। इतना ही नहीं, इस साल मानसून की बारिश भी बेहतर होने की संभावना है।

चंद्रा शेखर आज़ाद यूनिवर्सिटी के मौसम बिभाग एवंभारतीय मौसम विज्ञान विभाग का पूर्वानुमान  हैं कि टाक्टे तूफान और दक्षिणी पश्चिमी मानसून की दस्तक में करीब दो सप्ताह का अंतराल रहा है। यही अंतराल इस दिशा में फायदेमंद साबित हुआ है। मौसम वैज्ञानिक डॉक्टरयसएनसुनील पाण्डेय ने बताया कि मानसून के आगमन की पूर्व निर्धारित तिथि एक जून है, जबकि पूर्वानुमान है कि यह 31 मई तक ही केरल पहुंच जाएगा। हालांकि एक नेजी एजेन्सी ने 30 मई की संभावना जताई है। अब अगर टाक्टे की बात करें तो इसका असर दो दिन में ही पूरी तरह खत्म हो जाएगा। इसलिए इससे मानसून का शेड्यूल या इसकी रफ्तार कुछ भी प्रभावित नहीं होगी। अगर यह तूफान मई के अंतिम सप्ताह में आता तो अवश्य ही मानसून की दस्तक को प्रभावित कर सकता था।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मिर्च की फसल में पत्ती मरोड़ रोग व निदान