गरीबों का सपना साकार

प्रधान मंत्री आवास योजना‘ गरीब/असहाय लोगों के लिए वरदान साबित हो रही है। इस योजना के कारण अब तक लाखों लोगों को उनके पक्के आवास का सपना साकार हुआ। देश एवं प्रदेश की सरकार ऐसे गरीब असहाय जिनके पास अपने परिवार को रखने के लिए पक्का मकान नही था,  गरीबी और निर्धनता के कारण अपना पक्का मकान बनाने में असमर्थ थे, कच्चे मकान, झोपड पट्टी आदि में रहने के लिए विवश थे। ऐसे लोगों के दुःख-दर्द एवं पीड़ा का सरकार को अहसास हुआ, जिसके दृष्टिगत सरकार द्वारा ‘प्रधानमंत्री आवास योजना‘ को संचालित किया गया, जो गरीबों के लिए वरदान साबित हो रही है तथा गरीबों का सपना साकार कर रही है।  

जनपद सुलतानपुर के विकासखण्ड दूबेपुर के अन्तर्गत ग्राम पंचायत दिखौली की निवासी श्रीमती यशवन्त देबी पत्नी बुद्वू बताती हैं कि ‘हम एक गरीब परिवार से है। हमारे पास पक्का मकान नही था। हम परिवार सहित एक कच्चे मकान में किसी तरह अपना गजारा करते थे। हमारे पति एक दैनिक मजदूर है, कभी काम मिला कभी नही। हमारी आर्थिक स्थित को देखते हुए एक दिन ग्राम प्रधान ने पंचायत सचिव के माध्यम से हमारा आवास हेतु पंजिकरण करा दिया गया और मुझे आवास हेतु पात्र पाया गया। पंचायत सचिव द्वारा हमारा बैंक में खाता खुलवाया गया। प्रथम किश्त के रूप में मेरे खाते में 40 हजार रूपये प्राप्त हुए, जिसका उपभोग करते हुए मैने नीव स्तर तक अपना आवास पूरा किया। इसी प्रकार दूसरी व तीसरी किश्त भी मेरे खाते में आ गई, जिसके कारण मैने अपना आवास निर्माण पूर्ण किया। हम व हमारे पति आवास निर्माण में वेलदारी का कार्य करते थे, जिसके कारण हमकों मजदूरी भी प्राप्त हुई। इसके अतिरिक्त हमे शौचालय का भी पैसा मिला जिससे हमने शौचालय बनवाया। अन्य कई योजनाओं का लाभ भी मिला। आज हम परिवार सहित सुखमय जीवन व्यतीत कर रहे है। यह सब मा0 प्रधानमंत्री एवं प्रदेश के मा0 मुख्यमंत्री जी के कारण संभव हो सका है। हमारा परिवार सदैव उनके इस उपकार को याद रखेगा।