उत्तर प्रदेश विधान सभा सत्र की कार्यवाही यू-ट्यूब पर सजीव प्रसारण का शुभारम्भ

उत्तर प्रदेश विधान सभा के अध्यक्ष, श्री हृदय नारायण दीक्षित आज विधान भवन कक्ष सं0-15 में उत्तर प्रदेश विधान सभा सत्र की कार्यवाही यू-ट्यूब पर सजीव प्रसारण का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर कहा कि जनतंत्र की सफलता का मूल आधार पारदर्शिता है। जनप्रतिनिधि सदन में जनहित में बोलते है। उनका वक्तव्य जनता ध्यान से सुनती है। यह अपने प्रतिनिधियों का कामकाज ध्यान से देखते है और अपने प्रतिनिधि के बारे में राय बनाते है। 17वीं विधान सभा के प्रारम्भ से ही दूरदर्शन पर जीवंत प्रसारण की व्यवस्था की गयी है। इसका लाभ यह होता है कि सदन में आने वाले सदस्यों को चुनने वाले मतदाता विधान सभा में क्या हो रहा है, उनके प्रतिनिधि कैसे बोल रहे है, गैर हाजिर तो नहीं है आदि-आदि विषयों पर जानकारी उपलब्ध प्राप्त कर सकता है।

विधान सभा अध्यक्ष ने कहा कि आधुनिक तकनीक बहुत आगे बढ़ चुकी है। इस दृष्टि से विधान सभा की कार्यवाही दिखाने के लिए कई आधुनिक तकनीकियां विकसित हुई है, उन्हीं में से एक यू-ट्यूब भी है। अब विधान सभा की कार्यवाही का सजीव प्रसारण यू ट्यूब पर भी किया जायेगा। प्रदेश की जनता यू-ट्यूब के माध्यम से भी सदन की कार्यवाही देख सकेगी। यू-ट्यूब पर जो कार्यवाही देखी जायेगी उसे 04 साल या 10 साल बाद भी यू-ट्यूब पर देखी जा सकेगी। लोग अब मोबाइल द्वारा विधान सभा की कार्यवाही का सजीव प्रसारण देख सकेंगे।
इस अवसर पर संसदीय कार्यमंत्री, श्री सुरेश कुमार खन्ना एवं नेता विपक्ष, श्री राम गोविन्द चौधरी ने भी अपने विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम में मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य, मंत्री श्री रमापति शास्त्री, मंत्री श्री लक्ष्मीनारायण चौधरी मंत्री श्रीमती गुलाब देवी, सदस्य श्री फतेह बहादुर, सदस्य श्री योगेन्द्र उपाध्याय, श्रीमती आराधना मिश्रा ‘‘मोना’’, श्री शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली, श्रीमती लीना तिवारी, श्री ओम प्रकाश राजभर, विधान सभा के प्रमुख सचिव, श्री प्रदीप कुमार दुबे एवं अन्य कर्मचारी भी उपस्थित रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मिर्च की फसल में पत्ती मरोड़ रोग व निदान