जलीय कृषि को बढ़ावा

 

उत्तर प्रदेश सरकार ने राष्ट्रीय कृषि विकास योजनान्तर्गत मत्स्य पालन की योजनाओं हेतु मत्स्य विभाग को रूपये 839.70 लाख की स्वीकृति प्रदान कर दी है। स्वीकार की जा रही धनराशि का उपयोग राष्ट्रीय कृषि विकास योजनान्तर्गत मत्स्य पालन की विभिन्न विकास योजनाओं पर किया जायेगा। यह जानकारी उपसचिव कृषि, डॉ0 राम चन्द्र शुक्ल ने देते हुये बताया कि इस सम्बन्ध में शासन द्वारा आवश्यक निर्देश जारी कर दिये हैं।

     जारी शासनादेश के अनुसार स्वीकार की गयी धनराशि में से निजी तालाबों की स्थापना के माध्यम से आच्छादन क्षेत्र में वृद्धि कर जलीय कृषि को बढ़ावा दिये जाने के लिए 695.75 लाख रूपये तथा आगरा एवं अलीगढ़ में झींगा पालन हेतु नये तालाब के निर्माण के लिए 45.55 लाख रूपये तथा कम लागत में पेंगासियस पालन हेतु रूपये 98.40 लाख जारी किये गये हैं। योजनान्तर्गत पूर्व में जारी की गयी धनराशि का उपयोगिता प्रमाण पत्र शासन को उपलब्ध कराने के उपरान्त ही यह धनराशि व्यय की जायेगी।
     शासन द्वारा निर्देश दिये गये हैं कि स्वीकृत की जा रही धनराशि का व्यय एस0एल0एस0सी0 द्वारा अनुमोदित परियोजना एवं प्रस्ताव के अनुरूप आर0के0वी0वाई0-रफ्तार हेतु भारत सरकार के दिशा-निर्देशों तथा संगत नियमों के अनुसार किया जायेगा।