किसानोन्मुखी योजनाओं में उल्लेखनीय योगदान

उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री, श्री सूर्य प्रताप शाही ने बताया कि आगामी स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) के अवसर पर आजादी के 75 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में ’’भारत का अमृत महोत्सव’’ कार्यक्रम के अंतर्गत प्रदेश के समस्त प्रगतिशील किसानों को सम्मानित किया जाएगा। विभिन्न फसलों में उच्च स्तरीय उपलब्धता प्राप्त करने वाले, नवीन तकनीक विकसित कर पैदावार में बढ़ोतरी करने वाले, नए-नए प्रयोग कर कृषि को नई दिशा देने वाले किसानों को इस अवसर पर सम्मानित किया जाएगा।

श्री शाही ने बताया कि इस कार्यक्रम के अंतर्गत ऐसे किसानों को भी सम्मानित किया जाएगा, जिन्होंने कृषक उत्पादक संगठनों को बढ़ावा दिए जाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई हो। इसके अतिरिक्त सरकार की किसानोन्मुखी योजनाओं में उल्लेखनीय योगदान देने वाले किसानों को भी सम्मान प्रदान किया जाएगा। इस अवसर पर महिला किसानों को भी अनिवार्य रूप से सम्मिलित किया जाएगा।
कृषि मंत्री ने बताया कि इस संबंध में समस्त कृषि विश्वविद्यालयों के कुलपति एवं निदेशक, कृषि को आवश्यक निर्देश जारी कर दिए गए हैं। अपर मुख्य सचिव, कृषि की ओर से जारी निर्देश में कहा गया है कि जिन जनपदों में कृषि विश्वविद्यालय होंगे, वहां कृषि विश्वविद्यालय द्वारा सम्मान कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा और कृषि विभाग के अधिकारी सहयोग करेंगे। कृषि विश्वविद्यालय न होने की स्थिति में उप कृषि निदेशक द्वारा कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा तथा संबंधित कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा सहयोग दिया जाएगा।