अच्छी कम्पोस्ट तकनिकी  विधि 


कम्पोस्ट बनाने से पहले फार्म के जो भी कचरा उपलब्ध हों इकट्ठा कर लिया जाता है उस सारे को आपस में मिला दिया जाता है। फिर 15 से 20 फुट लम्बा, 5-6 फुट चौड़ा, तीन से साढ़े  तीन  फुट गहरा गड्डा बना लिया जाता है फिर कचरे कि एक फुट गहरी तह बिछा दी जाती है फिर उसे गोबर के घोल से अच्छी तरह गीला कर दिया जाता है। यही क्रम तब तक अपनाया जाता है जब तक कि कचरे का स्तर भूमि की सतह से दो से ढाई   फुट ऊँचा ना हों जाए। फिर ऊपर से इसे मिट्टी से ढक दिया जाता है। यदि गर्मी में गड्डा भरा हों तो दो से तीन सप्ताह  के अन्तर पर 1-2 बार गड्डे में पानी छोड़ देना चाहिए ताकि कचरे को गलाने के लिए पर्याप्त नमी बनी रहे। वर्षा ऋतु तथा जाड़ोंमें पानी डालने कि आवश्यकता नहीं । लगभग 4 माह में खाद तैयार हों जाएगी। जिसमे 0.5 प्रतिशत नाइट्रोजन, 0.15 प्रतिशत फास्फोरस तथा 0.5 प्रतिशत पोटाश होगी।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मिर्च की फसल में पत्ती मरोड़ रोग व निदान

सरकार ने जारी किया रबी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य