दही के प्रयोग से बढ़ाये लीची व आम का  उत्पादन


इस मिश्रण का प्रयोग आम व लीची में मंजरी आने से करीब 15-20 दिनों पूर्व इसका प्रयोग करें. एक लीटर पानी में 30 मिलीलीटर दही के मिश्रण डाल कर घोल तैयार बना लें । इससे पौधों की पत्तियों को भीगों दें। 15 दिन बाद दोबारा यही प्रयोग करना है।
इससे लीची व आम के पेड़ों को फॉस्फोरस व नाइट्रोजन की सही मात्रा मिलती है और मंजरी को तेजी से बाहर निकलने में मदद मिलती है ,तथा सभी फल एक समान आकार के होते हैं , फलों का झड़ना भी इस प्रयोग से कम हो जाता है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मिर्च की फसल में पत्ती मरोड़ रोग व निदान