इस वर्ष कुल 20871  स्प्रिंकलर सेट वितरण का लक्ष्य
                          

प्रदेश के कृषि मंत्री, श्री सूर्य प्रताप शाही के निर्देशन में कृषि विभाग द्वारा प्रत्येक जनपद के प्रत्येक विकासखण्ड के चयनित माॅडल ग्राम में जोत के आधार पर मृदा नमूना एकत्र कर विश्लेषणोपरांत मृदा स्वाथ्य कार्ड उपलब्ध कराये जाने का कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। प्रदेश के किसानों को समय पर आवश्यकतानुसार बेहतर कृषि यंत्र, उन्नत किस्म के बीज, खाद एवं उर्वरक आदि मुहैया कराना वर्तमान सरकार की शीर्ष प्राथमिकता है।

      कृषि विभाग से मिली विस्तृत जानकारी के अनुसार मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजनान्तर्गत 821 माडल ग्रामों में 2.50 लाख मृदा नमूने एकत्र करने के लक्ष्य के सापेक्ष 2.15 लाख मृदा नमूने एकत्र कर 1.21 लाख मृदा नमूनो का विश्लेषण किया जा चुका है। मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजनान्तर्गत प्रथम चक्र में 170.15 लाख तथा द्वितीय चक्र में 195.31 लाख मृदा स्वास्थ्य कार्ड का वितरण किया गया है।


प्रदेश में सिंचाई जल उपयोग की क्षमता बढ़ाने हेतु संचालित स्प्रिंकलर सिंचाई योजनान्तर्गत वर्ष 2019-20 हेतु 48 जनपदों में 5198 स्प्रिंकलर सेट, बुन्देलखण्ड पैकेज में 823 स्प्रिंकलर सेट, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन में  2350 राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन ( ऑयल सीड) में 500 कुल 8871 स्प्रिंकलर सेट का वितरण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसके अतिरिक्त प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अन्तर्गत 12000 ड्रिप/स्प्रिंक्लर सेट वितरण का लक्ष्य निर्धारित है। प्रदेश सरकार द्वारा स्प्रिंकलर सेट के क्रय पर लघु एवं सीमान्त कृषकों को 90 प्रतिशत् तथा सामान्य कृषकों को 80 प्रतिशत् का अनुदान दिया जा रहा है।