देश की बेटी निर्भया को मिला सात बाद इन्साफ !

 


    पूरे देश को झकझोर कर रख देने वाले दिल्ली के निर्भया रेप-हत्या के चारों दोषियों मुकेश, विनय शर्मा, अक्षय ठाकुर व पवन गुप्ता को आज सुबह एक साथ तिहाड़ जेल में फांसी पर लटका दिया गया।
      तिहाड़ जेल के डीजी ने चारों की मौत की पुष्टि की है। 8-30 बजे पांच डाक्टरों का पैनल चारों का पोस्टमार्टम करेंगे।


      सुप्रीम कोर्ट में निर्भया के दोषियों की याचिका पर सुनवाई करते हुए जस्टिस आर भानुमती की बेंच ने याचिका को खारिज कर दिया। फांसी का रास्ता पूरी तरह से साफ हुआ, चारों दोषियों को सुबह 5-30 बजे तिहाड़ जेल में फांसी पर  दे दी गयी।
     बेंच ने जैसे ही अपना फैसला लिखाना शुरू किया तो दोषियों के वकील एपी सिंह ने अंतिम दांव चलते हुए कहा कि हमारे साथी वकील ख्वाजा पक्ष रखना चाह रहे हैं, इस पर जस्टिस आर भानुमती ने वकील ख्वाजा को पक्ष रखने की अनुमति दे दी। वकील ख्वाजा ने कहा कि राष्ट्रपति ने उनके मुवक्किल की दया याचिका खारिज करते समय खुले मन से निर्णय नहीं लिया। कोर्ट ने दोषियों की किसी दलील पर कोई गौर नहीं किया। कोर्ट ने दोषियों के वकील से इस बात पर नाराजगी जताई कि वे बार-बार पुरानी दलीलें लेकर कोर्ट क्यों आ रहें हैं, जिन्हे पहले ही खारिज किया जा चुका था


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मिर्च की फसल में पत्ती मरोड़ रोग व निदान