अध्यापकों एवं विद्यार्थियों में प्रचार-प्रसार कर विद्यालयों में आनलाइन पठन-पाठन के लिए कक्षावार बनवायें व्हाट्सएप ग्रुप -डा० दिनेश शर्मा

बोर्ड परीक्षा-2020 की उत्तर-पुस्तिकाओं का सुरक्षित एवं शुचितापूर्ण मूल्यांकन प्रारम्भ कराने की तैयारी भी की जाये जिससे विद्यार्थियों का सत्र खराब न हो !


 

 

प्रदेश के उप मुख्यमंत्री, डा० दिनेश शर्मा ने योजना भवन में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मण्डलीय संयुक्त शिक्षा निदेशकों एवं समस्त जिला विद्यालय निरीक्षकों को निर्देश दिये कि कोरोना वायरस के संक्रमण के दृष्टिगत स्कूल बन्द होने के कारण आगामी 20 अप्रैल से समस्त माध्यमिक विद्यालयों में प्रातः 8.00 बजे से अपरान्ह 2.00 बजे तक आन-लाइन माध्यम से पठन-पाठन की व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाये। इसके लिये सभी जिला विद्यालय निरीक्षक, जनपद के समस्त माध्यमिक विद्यालयो के प्रधानाचर्यों से चर्चा कर लाकडाउन की अवधि में पढाये जाने वाले पाठ्यक्रम, समय-सारणी का निर्धारण कर लें तथा इसका अध्यापकों एवं विद्यार्थियों में प्रचार-प्रसार कर विद्यालयों में आनलाइन पठन-पाठन हेतु कक्षावार व्हाट्सएप ग्रुप बनवायें। माध्यमिक शिक्षा परिषद की वेबसाइट नचउेचण्मकनण्पद पर उपलब्ध ई-पाठ्य पुस्तकें एवं दीक्षा पोर्टल ूूूण्कपोींण्हवअण्पद पर उपलब्ध विषयवार शैक्षिक वीडियो डाउनलोड कर व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से विद्यालयों/अध्यापकों को उपलब्ध करायें। सभी विषय अध्यापकों द्वारा डाउनलोड ई-पुस्तक/वीडियो को व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से कम से कम 01 दिन पूर्व विद्यार्थियों को उपलब्ध कराया जाये तथा अगले दिन निर्धारित समय पर ग्रुप पर विद्यार्थियों की कठिनाइयों/समस्याओं का निराकरण एवं शैक्षिक प्रगति का मूल्यांकन भी किया जाये। पठन-पाठन के अनुश्रवण हेतु समस्त मण्डलीय संयुक्त शिक्षा निदेशक एवं जिला विद्यालय निरीक्षक रैन्डम आधार पर इन व्हाटसऐप ग्रुप पर रहेंगे। 

      उपमुख्मंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव ही सुरक्षा है। अतः सामाजिक मेल-जोल व सार्वजनिक स्थलों से दूरी बनाने तथा आत्मसंयम, धैर्य व भावनात्मक एकजुटता  के लिये शिक्षकों, विद्यार्थियों एवं अभिभावकों को प्रिन्ट एवं सोशल मीडिया के माध्यम से प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि एन० सी० सी० कैडेट्स की ट्रेनिंग सम्पन्न कराकर कोविड-19 के विरूद्ध लड़ाई में प्रशासन को सहयोग उपलब्ध करायें तथा इन कैडेट्स के स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखा जाये। लाकडाउन की अवधि में विद्यार्थियों को सकारात्मक गतिविधियों में व्यस्त रखने के लिये आन-लाइन माध्यम से विविध प्रकार की प्रतियोगिताएं आयोजित करायी जायें। अभी तक 2337 कैडेटस का प्रशिक्षण कोविड-19 से जंग हेतु कराया गया है तथा 299 कैडेटस को इस कार्य हेतु तैनात कर दिया गया है।  

     डा0 शर्मा ने कहा कि कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए भारत सरकार ने आरोग्य सेतु एप लांच किया है। यह एप जीपीएस और ब्लूटूथ तकनीक के आधार पर किसी संक्रमित व्यक्ति के समीप आते ही उपयोगकर्ता को सतर्क कर देता है और डाटा को भारत सरकार के साथ भी शेयर करता है ताकि संक्रमित व्यक्ति का जल्द इलाज शुरू हो सके। इसे गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं। स्वयं उपयोग करें तथा अपने परिवार, मित्रों, समस्त शिक्षकों, छात्र-छात्राओं और उनके अभिभावकों को कोविड-19 से सुरक्षित रखनें के लिए आरोग्य सेतु एप अनिवार्य रूप से डाउनलोड करने के लिए प्रेरित करें। माध्यमिक शिक्षा विभाग द्वारा अब तक 14.48 लाख आरोग्य ऐप डाउनलोड करवा लिया गया है इसको और भी अधिक बढ़ाये जाने के निर्देश दिये गये है। 

     उप मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि बोर्ड परीक्षा-2020 की उत्तर-पुस्तिकाओं का सुरक्षित एवं शुचितापूर्ण मूल्यांकन प्रारम्भ कराने की तैयारी भी की जाये जिससे विद्यार्थियों का सत्र खराब न हो। इसके लिये सामाजिक दूरी बनाये रखने के दिशा-निर्देशों का  पालन किया जाये एवं मूल्यांकन केन्द्र पर मास्क, ग्लब्स व सैनिटाइजर की सुचारू व्यवस्था की जाये। उन्होंने यह भी कहा कि मूल्यांकन में किसी प्रकार का व्यवधान न हो, सफाई एवं सुरक्षा की व्यवस्था में किसी भी प्रकार की कमी न रखी जाये तथा मूल्यांकन कार्य में संलग्न व्यक्तियों के लिये जिला प्रशासन से सम्पर्क कर ड्यूटी पास की व्यवस्था भी की जाये। मूल्यांकन में मोबाइल तथा अन्य इलेक्ट्रानिक डिवाइस के साथ -साथ बाहरी लोगों को भी प्रतिबन्धित किया जाये। 

     डा० शर्मा ने निर्देश दिया कि कक्षा-6, 7, 8, 9 एवं 11 के प्रोन्नत विद्यार्थियों के अगली कक्षा में प्रवेश एवं पठन-पाठन तथा कक्षा-9 एवं 11 के विद्यार्थियों के आन-लाइन पंजीकरण हेतु भी आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित की जायें।   

       प्रमुख सचिव, माध्यमिक शिक्षा, श्रीमती आराधना शुक्ला इस अवसर पर जनपदीय एवं मण्डलीय अधिकारियों द्वारा लाक-डाउन की अवधि में आन-लाइन वर्चुवल क्लासेज के माध्यम से की जा रही पठन-पाठन की व्यवस्था, सोशल एवं प्रिन्ट मीडिया के माध्यम से कोरोना वायरस के संक्रमण के बचाव हेतु जागरूकता हेतु अपीलध्प्रयासों, विद्यार्थियों को आन-लाइन माध्यम से अभिव्यक्ति के अवसर प्रदान करने के लिये विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन करने, एन०सी०सी० एवं एन०एस०एस० के विद्यार्थियों द्वारा किये जा रहे कार्यों तथा आरोग्य सेतु ऐप डाउन लोड किये जाने की स्थिति प्रस्तुत की । माध्यमिक शिक्षा विभाग के प्रयास से अभी तक सोशल तथा प्रिन्ट मीडिया में 11.36 लाख अपीलें जारी की गयी है। 

     वीडियों कान्फ्रेन्स में प्रमुख सचिव, माध्यमिक शिक्षा, श्रीमती आराधना शुक्ला, विशेष सचिव माध्यमिक शिक्षा, श्री राजेश कुमार, श्री उदय भानु त्रिपाठी तथा श्री कुमार राघवेन्द्र सिंह,  शिक्षा निदेशक (माध्यमिक), श्री विनय कुमार पाण्डेय सहित माध्यमिक शिक्षा के विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मिर्च की फसल में पत्ती मरोड़ रोग व निदान

सरकार ने जारी किया रबी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य