दिल्ली के तब्लीगी मरकज में सम्मिलित होने वाले 1173 लोगों को चिन्हित करते हुए 884 लोगों को किया गया क्वारेंटाइन -अपर मुख्य सचिव, गृह एवं सूचना श्री अवनीश कुमार अवस्थी

अपर मुख्य सचिव, गृह एवं सूचना श्री अवनीश कुमार अवस्थी ने आज लोक भवन स्थित मीडिया सेन्टर में मीडिया प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने निर्देश दिए हैं कि प्रदेश में लाॅक डाउन को शत-प्रतिशत सफल बनाने के लिए समस्त ग्रामीण तथा शहरी नागरिक सहयोग के साथ संयम बरतें। उन्होंने बताया कि दिल्ली के तब्लीगी मरकज में सम्मिलित होने वाले 1173 लोगों को चिन्हित करते हुए 884 लोगों को क्वारेंटाइन किया गया है। उन्होंने बताया कि क्वारेंटाइन से भागने वाले तथा क्वारेंटाइन होम में लगे कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी तथा  287 विदेशी लोगों को चिन्हित कर 32 एफआईआर दर्ज की गयी है तथा 211 पासपोर्ट जब्त किये गये हैं। उन्होंने बताया कि तब्लीगी जमात के चिन्हित 1173 में से मेरठ के 304, वाराणसी के 197, गोरखपुर के 187, बरेली के 145, आगरा के 104, गौतमबुद्ध नगर कमिश्नरेट के 70, लखनऊ जोन के 69, प्रयागराज के 40, कानपुर जोन के 33, लखनऊ कमिश्नरेट के 24 लोग पाये गये हैं। उन्होंने बताया कि विदेश से आये लोगों के वीजा की निरन्तर समीक्षा की जा रही है। तब्लीगी जमात में सम्मिलित अन्य लोगों को भी चिन्हित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना से बचाव हेतु जमात में सम्मिलित लोग स्वयं सूचित करें। उन्होंने आम लोगों से भी कहा है कि इनकी कोई सूचना मिलने पर पुलिस व प्रशासन या कन्ट्रोल रूम को सूचित करें।        

श्री अवस्थी ने बताया कि राज्य एवं जनपदों के बाॅर्डर पर जीरो टाॅलरेंस की नीति अपनाते हुए लाॅक डाउन का सख्ती से पालन किया जाये। बिना जिम्मेदार व्यक्ति से पुष्टि किये भ्रामक समाचार सोशल मीडिया पर प्रेषित न किया जाये। उन्होंने बताया कि मा0 सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर ‘फेक न्यूज’ पर भी जीरो टाॅलरेंस की नीति अपनाई जाये। इस सम्बंध में जिले के पुलिस एवं प्रशासन को निर्देशित कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी के निर्देश पर उ0प्र0 पाॅवर कारपोरशन द्वारा लाॅक डाउन की अवधि में औद्योगिक एवं वाणिज्यिक उपभोक्ताओं की माह अप्रैल की बिलिंग विगत 03 माह के औसत खपत पर न बनाकर वास्तविक खपत के आधार पर की जायेगी। उन्होंने बताया कि माह मार्च एवं अप्रैल में लाॅक डाउन की अवधि के अनुपात में फिक्सड और डिमाण्ड चार्जेज की देयताओं को अगले दो माह तक स्थगित कर दिया गया है