प्रदेश के 41.76 लाख गन्ना आपूर्तिकर्ता किसानों को मोबाइल पर एस.एम.एस. के माध्यम 5.18 करोड़ गन्ना पर्ची जारी!


प्रदेश के आयुक्त, गन्ना एंव चीनी उद्योग श्री संजय आर. भूसरेड्डी ने बताया कि सहकारी गन्ना समितियों के पर्ची निर्गमन एवं अन्य कार्यों में शुचिता तथा पारदर्शिता लाये जाने हेतु विकसित की गई ई.आर.पी. व्यवस्था लॉकडाउन की अवधि के समय कारगर साबित हो रही है। उन्होने बताया कि इस व्यवस्था में गन्ना कृषकों को समस्त सूचनाएं आनलाइन पोर्टल एंव ई-गन्ना एप के माध्यम से घर बैठ उपलबध हो रही है, तथा गन्ना पर्ची की सूचना एस.एम.एस. से किसानों को उनके मोबाइल पर तत्काल मिल रही है।
श्री भूसरेड्डी ने बताया की ई.आर.पी. के माध्यम से किसानों को आनलाइन पोर्टल www.caneup.in व E-Ganna App पर समस्त सूचनाएं सुगमता से उपलब्ध हो पा रही है। इस व्यवस्था से किसानों के गन्ने की आपूर्ति लॉकडाउन की अवधि के समय भी चीनी मिलों को सही समय पर हो रही है। उन्होने बताया कि प्रदेश के 41.76 लाख गन्ना आपूर्तिकर्ता किसानों को 5.18 करोड़ गन्ना पर्ची जारी की गई है, जिसमे 9.13 लाख छोटे किसान है जिन्हे लगभग 23 लाख पर्ची जारी की गई है।
श्री भूसरेड्डी ने यह भी बताया की 1 करोड 85 लाख बार www.caneup.in वेबसाईट को हिट किया गया है तथा लगभग 6 करोड 30 लाख बार किसानों के आंकडों का अवलोकन किया गया तथा 15 लाख 20 हजार किसानों द्वारा (E-Ganna App) डाउनलोड किया गया एवं लगभग 33.62 करोड़ बार ऐप को हिट
किया गया।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मिर्च की फसल में पत्ती मरोड़ रोग व निदान