राजस्व विभाग ने कोबिड -19 कोरोना के दृष्टिगत कुल 1139 करोड़ रूपए जारी-अपर मुख्य सचिव राजस्व श्रीमती रेणुका कुमार
 

अपर मुख्य सचिव राजस्व श्रीमती रेणुका कुमार ने बताया कि कोविड-19 के दृष्टिगत प्रदेश के सभी जनपदों एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग को कुल 1139 करोड़ रूपए की धनराशि जारी की गई है। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस की वजह से विभिन्न प्रकार की व्यवसायिक गतिविधियों के प्रभावित होने के कारण दैनिक रूप से काम करने वाले मजदूरों आदि के सामने भरण-पोषण की समस्या के दृष्टिगत उन्हें सहायता दिये जाने हेतु समस्त जनपदों को कुल 750.00 करोड़ रूपए (प्रति जनपद 10-10 करोड़ रूपए) की धनराशि अग्रिम रूप से आवंटित कर दी गई है। इसके साथ अस्थायी आश्रय स्थलों, आम रसोई घरों व अन्य स्थानों पर व्यक्तियों को आवश्यकतानुसार भोजन सामग्री, भोजन, फूड पैकेट वितरण कराने हेतु समस्त 75 जनपदों को 215.00 करोड़ रूपए की धनराशि, कोविड-19 के प्रसार को रोकने एवं प्रभावी नियंत्रण हेतु मास्क, पीपीई, आरटी-पीसीआर उपकरण, वेंटिलेटर्स आदि के क्रय हेतु चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण को 100 करोड़ रूपए तथा कोविड-19 सम्बंधी आवश्यक मेडिकल कन्ज्यूमेबल तथा मेडिकल इक्युपमेंट क्रय हेतु समस्त जनपदों को 44.50 करोड़ रूपए आवंटित कर दी गयी है। उन्होंने बताया कि 31 जनपदों में स्थापित राजकीय मेडिकल काॅलेजों, मेडिकल संस्थाओं व प्राइवेट मेडिकल काॅलेजों में कोविड-19 से बचाव व प्रबंधन हेतु आवश्यक उपकरण एवं कन्ज्यूमेबल आदि के क्रय हेतु 29.50 करोड़ रूपए की धनराशि अग्रिम रूप से आवंटित कर दी गयी है। 

श्रीमती रेणुका ने बताया कि राजस्व विभाग द्वारा एकीकृत राहत कन्ट्रोल रूम  स्थापित किया गया है। प्रदेश के सामान्य लोग और प्रदेश के बाहर रह रहे उ0प्र0 के सभी लोग इसका लाभ उठा सकेंगे। व्यक्ति या संस्था जो हमें मदद करने के लिए सम्पर्क करना चाहते हैं सीएसआर हेल्पलाइन 9454441045 के माध्यम से कर सकते हैं। इसके लिए हेल्पलाइन नं0 1070, 0522-2237515 एवं व्हाट्सऐप नं0 9454441036 पर भी सम्पर्क स्थापित किया जा सकता है।