भयंकर चक्रवाती तूफान


195 किमी की रफ्तार से  आएगा सुपर साइक्लोन अम्फान, प. बंगाल में बड़े नुकसान की आशंका


चक्रवाती तूफान अम्फान ने 'सुपर साइक्लोन' का रूप ले लिया है। पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में  में पहुंचेगा। इस दौरान हवा की रफ्तार 195 किलोमीटर प्रति घंटा हो सकती है और इससे काफी नुकसान की आशंका है। भारत में इससे पहले ऐसा चक्रवाती तूफान 1999 में आया था। केंद्र सरकार और नेशनल डिजास्टर रेस्पांस फोर्स (एनडीआरएफ) ने  यह चेतावनी जारी की।  इसे लेकर प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में बैठक भी हुई और तैयारियों का जायजा लिया गया।


अम्फान ने सुपर साइक्लोन का रूप लिया


केंद्र सरकार की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि बंगाल की खाड़ी में अम्फान ने  सुपर साइक्लोन का रूप ले लिया।इससे पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में काफी नुकसान की आशंका है। यहां यह तूफान 20 मई को 195 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से टकराएगा। पश्चिमी मिदनापुर, उत्तर और दक्षिण 24 परगना, हावड़ा, हुगली और कोलकाता जिले सबसे ज्यादा प्रभावित होने की आशंका है। ओडिशा के जगतिसंहपुर, केंद्रपाड़ा, भद्रक और बालासोर जिले ज्यादा प्रभावित।