उत्तर प्रदेश  में शुरू होंगी यह गतिविधियां ,गाइडलाइन्स कल तक सभी जिलों होगी प्रेषित


मुख्यमंत्री  बोले  राज्य सरकार की ओर से गाइडलाइन्स कल तक सभी जिलों को भेज दी जाएंगी, ग्रामीण क्षेत्रों में सीमेण्ट, सरिया, गिट्टी आदि की दुकानों को खोलने के निर्देश 
लखनऊ, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों के क्रम में कोरोना से अप्रभावित क्षेत्रों में आर्थिक गतिविधियां शुरू की जाएंगी। उन्होंने सभी डीएम को अपने-अपने जिलों में आर्थिक गतिविधियों को शुरू करने के बारे में बैठक करने के निर्देश दिए। साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में सीमेण्ट, सरिया, गिट्टी आदि की दुकानों को खोलने और प्रधानमंत्री आवास योजना, मुख्यमंत्री आवास योजना, मनरेगा और अन्य योजनाओं के तहत कार्य शुरू करवाने के निर्देश दिए।
मुख्यमंत्री ने शनिवार देर शाम सरकारी आवास पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सभी डीएम, एसएसपी, एसपी, सीएमओ को सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि लॉक डाउन-3 के बारे में भारत सरकार द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशों के क्रम में राज्य सरकार द्वारा गाइडलाइन्स कल तक सभी जिलों को भेज दी जाएंगी। उन्होंने कहा कि सभी जिलों में 25 हजार क्वारण्टीन की क्षमता की जाए। क्वारण्टीन में भेजे गए लोगों की सूची बनाकर उनके पते, मोबाइल नम्बर, कौशल इत्यादि का ब्योरा रखा जाए। गांवों में निगरानी कमेटी बनाएं। संदिग्ध लोगों को क्वारण्टीन सेण्टर पहुंचाया जाए।
निजी अस्पतालों में इलाज आयुष्मान भारत योजना के तहत निर्धारित दर पर ही हो
उन्होंने बुजुर्गों, बीमार लोगों, बच्चों, गर्भवती महिलाओं को कोरोना होने की दशा में उन्हें सीधे एल-3 अस्पताल में रखने के निर्देश दिए। उन्होंने वेण्टीलेटर की कमी से जूझ रहे जनपदों को 2-2 वेण्टीलेटर उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। जिलों में इमरजेंसी सेवाओं के बारे में उन्होंने कहा कि इसके लिए अस्पतालों को नामित किया जाए। इमरजेंसी सेवा के लिए आने वाले मरीजों की कोरोना स्क्रीनिंग करें। गम्भीर रोगों से ग्रसित लोगों को इमरजेंसी सेवाएं उपलब्ध कराई जाएं। कोरोना का निजी अस्पतालों में इलाज करवाने के इच्छुक लोगों के बारे में उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि किसी भी मरीज का इलाज आयुष्मान भारत योजना के तहत अनुमन्य रेट्स पर ही किया जाए।
किसानों को एम.एस.पी. अवश्य मिलें
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार किसानों से गेहूं खरीद रही है। इसलिए यह सुनिश्चित किया जाए कि किसानों को एमएसपी अवश्य मिले। मण्डियां खुले स्थल पर संचालित हों। साथ ही, मण्डियों को सुबह से शाम तक चलाया जाए, ताकि अचानक ज्यादा भीड़ न पहुंचे। उन्होंने मण्डी आने वाले लोगों में संक्रमण को चेक करने के भी निर्देश दिए। लोगों की सुविधा के लिए हॉट स्पॉट क्षेत्र के बाहर सब्जियों की दुकानें ज्यादा समय तक खोली जाएं।
लोगों का अनावश्यक उत्पीड़न न करें
मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉक डाउन का सख्ती से अनुपालन किया जाए, लेकिन लोगों का अनावश्यक उत्पीड़न न किया जाए। उन्होंने सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने/अनावश्यक टिप्पणियां करने वालों को चिन्ह्ति करते हुए उनके खिलाफ त्वरित कार्रवाई करने के लिए कहा। उन्होंने झण्डा, बैनर इत्यादि का दुरुपयोग रोकने के लिए कहा। सभी जिलों के पुलिस अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि उनके क्षेत्रों में गोकशी न होने पाए। साथ ही, लूटपाट, महिला उत्पीड़न जैसी घटनाएं भी घटित न हों।
दूसरे राज्यों के नवोदय विद्यालय के छात्रों को भेजा जाएगा घर
मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी प्रकार की धार्मिक गतिविधियां मान्य नहीं होंगी। इसके लिए धर्मगुरुओं से संवाद करें। उन्होंने प्रदेश में मौजूद अन्य राज्यों के लोगों को घर भेजने की व्यवस्था के लिए आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। प्रदेश में मौजूद दूसरे राज्यों के नवोदय विद्यालय के बच्चों को उनके गंतव्य तक भिजवाने की सुरक्षित व्यवस्था की जाए


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मिर्च की फसल में पत्ती मरोड़ रोग व निदान