राजस्थान के जैसलमेर में रेतीला बवंडर, आम जनमानस को अच्छी बारिश का हैं इंतजार


जैसलमेर में आया रेतीला बवंडर। पश्चिमी राजस्थान में आम जनमानस को अच्छी बारिश का हैं इंतजार। अच्छी बारिश के लिए तरस रहे पश्चिमी राजस्थान के लोगों को मौसम के अलग-अलग मिजाज देखने को मिल रहे है। पूरे क्षेत्र में मानसून सक्रिय हुए करीब 40 दिन हो चुके है, लेकिन अभी तक पूरे क्षेत्र में एक समान जोरदार बारिश कहीं पर भी दर्ज नहीं की गई। छितराई हुई बारिश किसानों को निराश कर रही है। प्रदेश में राजनीतिक घमासान का केन्द्र बने जैसलमेर में आज शाम जोरदार रेतीले बंवडर के बाद मौसम कुछ सुहावना हो गया। वहीं जोधपुर व जालोर जिलों के कुछ हिस्सों में कहीं हल्की तो कहीं मध्यम बारिश रिकॉर्ड की गई।


 मुख्यमंत्री अशोक गहलोत समर्थक विधायकों को एक होटल में ठहराने के बाद सीमावर्ती जैसलमेर सुर्खियों में है। जैसलमेर में दिनभर की उमस भरी भीषण गर्मी के बाद शाम को मौसम में बदलाव आया और रेतीले बंवडर ने जिले के अधिकांश हिस्से को अपने आगोश में ले लिया। रेतील बवंडर के कारण हर तरफ धूल का साम्राज्य हो गया। थोड़ी देर तक तो लोगों को थोड़ी दूरी तक भी कुछ नजर नहीं आ रहा था। 


तेज हवा के साथ बवंडर के आगे बढ़ने के बाद मौसम सुहावना हो गया और आसमान में बादल छा गए। कुछेक स्थान पर हुई हल्की बारिश के कारण लोगों को कुछ राहत अवश्य मिली, लेकिन इससे उमस काफी बढ़ गई। जोधपुर में उमस भरी गर्मी ने लोगों को दिनभर हलकान किए रखा। शाम को मौसम बदला और हल्की आंधी के साथ काले घने बादलों ने आसमान में डेरा जमा अच्छी बारिश की उम्मीद अवश्य जगाई, लेकिन तेज हवा के साथ बादल बिखर गए। 


फिलहाल मौसम सुहावना बना हुआ है और रात को बारिश होने की उम्मीद है। वहीं जिले के लोहावट व पीलवा क्षेत्र में  अच्छी बारिश से किसानों को काफी राहत मिली।