उत्तर प्रदेश में 10 डिफाल्टर बिल्डरों से होगी रिकवरी


रेरा की सख्ती उत्तर प्रदेश में 10 डिफाल्टर बिल्डरों की सूची जारी, रिकवरी होगी ,उत्तर प्रदेश रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथारिटी के चेयरमैन राजीव कुमार ने डिफाल्टर बिल्डरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के संकेत दिए हैं। प्रदेश के 15 विकास प्राधिकरणों के उपाध्यक्षों व सीईओ के साथ बैठक में उन्होंने स्पष्ट किया कि बिल्डरों के साथ ही जो प्राधिकरण लापरवाही कर रहे हैं वह भी रेरा एक्ट के हिसाब से दण्ड के भागीदार होंगे। इसी के साथ चेयरमैंन ने प्रदेश के टाप 10 डिफाल्टर बिल्डरों की सूची भी जारी कर दी। प्राधिकरणों से इन बिल्डरों की रिक्त सम्पत्तियों का ब्योरा 15 दिनों के भीतर देने को कहा है। रेरा चेयरमैन राजीव कुमार ने शुक्रवार को प्राधिकरणों के उपाध्यक्षों के साथ वर्चुअल मीटिंग की। उन्होंने अफसरों से कहा कि अब तक बिल्डरों के खिलाफ 2000 आरसी जारी हो चुकी है। करीब 600 करोड़ रुपए की रिकवरी नोटिस भी जारी हुई है। इसमें से 15 प्रतिशत की वसूली हुई है। जिसे खरीदारों को वापस भी कर दिया गया है। लखनऊ के अंसल बिल्डर के खिलाफ 372 तथा सहारा प्राइम सिटी लिमिटेड के खिलाफ 31 आरसी जारी की गयी है। 


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मिर्च की फसल में पत्ती मरोड़ रोग व निदान

सरकार ने जारी किया रबी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य