धान क्रय केन्द्रों पर बनाये गए कृषक सहायता केन्द्र


मण्डी परिषद द्वारा जारी निर्देशों के अनुसार किसानों का धान मंडी परिषद द्वारा स्थापित क्रय केन्द्रों तथा मंडी समितियों के माध्यम से मूल्य समर्थन योजना के तहत क्रय किया जा रहा है। किसानों को उनकी उपज का भुगतान शीघ्रता से किए जाने की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है।
मण्डी परिषद से प्राप्त जानकारी के अनुसार 100 कंुतल से अधिक धान विक्रय करने वाले किसानों को प्रोत्साहन के रूप में 05 मास्क और एक सेनेटाइजर निःशुल्क उपहार स्वरूप दिए जा रहे है। मण्डी समितियों के संचालित क्रय केन्द्रों पर सेनेटाइजेशन और साफ सफाई पर भी विशेष ध्यान रखा गया है। धान विक्रय वाले किसानों को प्रोत्साहित करने के लिए मण्डी परिषद/समितियों द्वारा गरिमापूर्ण तरीकें से गमछा, गुड़, पानी रूमाल व अन्य वस्तुयें भेंट स्वरूप दिए जाने की भी व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही पावर बेनोइंग फैन, इलेक्ट्रानिक कांटा, नयी मापक यंत्र तथा छलना अन्य क्रय एजेन्सियों को भी मण्डी समितियों द्वारा उपलब्ध कराए गए है।
मण्डी परिषद द्वारा मण्डी समितियों में कृषक सहायकता केन्द्र भी स्थापित किए गए हैं किसान अपनी किसी भी समस्या के लिए इन केन्द्रों पर सम्पर्क कर सकते है। परिषद द्वारा धान क्रय केन्द्रों का नियमित रूप से अनुश्रवण की जा रही है।