कालें टमाटर ने दी देश में दस्तक


आपने काले टमाटर के बारे में शायद ही सुना होगा।   पिछले दो सालों से भारत में इसकी खेती भी शुरू हो गई है। ब्रिटेन के रास्ते भारत पहुँचा यह टमाटर की खेती कमोबेश लाल टमाटर के जैसे ही होती है। यह टमाटर सिर्फ अपने रंग के लिए विख्यात नहीं है बल्कि इसमें मौजूद गुणकारी तत्व भी बाकमाल हैं। काले टमाटर को सबसे पहले ब्रिटेन में उगाया गया।  इस टमाटर को उगाने का श्रेय रे ब्राउन को जाता है।  इस टमाटर को जेनेटिक म्यूटेशन के द्वारा बनाया गया है।  अंग्रेजी में इसे इंडि‍गो रोज़ टोमेटो कहा जाता है।  खुशखबरी तो ये है कि अब ये काला टमाटर भारत में भी दस्तक दे चुका है यानि इसकी खेती अब भारत में भी संभव है क्योंकि इसके बीज ऑनलाइन खरीददारी करके मँगाए जा सकते हैं।  बीज के एक पैकेट की कीमत 110 रुपए है, जिसमें 130 बीज होते हैं। इतने रंग बदलता है ये खास टमाटर! ये टमाटर आम टमाटर की तरह ही उगता है।  सबसे पहले ये हरा होता है। उसके बाद लाल। फिर इसका रंग नीला होते-होते काला हो जाता है जो कि काला टमाटर कहलाता है। जब आप इसे काटेगे तो देखेंगे इसका गूदा लाल टमाटर की तरह ही लाल होता है


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मिर्च की फसल में पत्ती मरोड़ रोग व निदान

सरकार ने जारी किया रबी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य