प्रदेश सरकार किसानों को फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य देने के लिए कृत्संकल्पित

 प्रदेश सरकार किसानों को उनकी फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य देने के लिए कृतसंकल्प है। जिससे किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उनकी धान खरीदी गयी। उन्होंने बताया कि अब तक किसानों से 453.44 लाख कु0 धान की खरीद की जा चुकी है। जो पिछले वर्ष में डेढ़ गुना अधिक है। उन्होंने बताया कि साढ़े तीन वर्ष में 179.48 मी0 टन धान तथा 162.71 मी0 टन गेहूं किसानों से खरीदा गया है इस प्रकार 60,921 करोड़ रू0 की फसल किसानों से खरीदी जा चुकी है। अब तक किसानों से 7,06,515.50 कु0 मक्का की खरीद की जा चुकी है। बुन्देलखण्ड में मूंगफली की भी खरीद की जा रही है। उन्होंने बताया मा0 प्रधानमंत्री द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना के अन्तर्गत 2.20 करोड से अधिक किसानों को 4 हजार 200 करोड़ रूपये से अधिक की धनराशि हस्तान्तरित की गयी है। इस धनराशि को मिला लिया जाय तो पिछले साढ़े तीन वर्ष में लगभग 28 हजार करोड़ रूपये से अधिक की धनराशि किसानों को हस्तान्तरित की गयी इसके अतिरिक्त साढ़े तीन वर्षों में गन्ना किसानों को 1,12,000 करोड़ रूपये का रिकार्ड भुगतान किया गया। राज्य सरकार किसानों के हितों के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है और किसानों की समस्या का निदान प्राथमिकता से सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकारियों को दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि किसानों को उनकी फसल पर न्यूनतम समर्थन मूल्य दिया जा रहा है तथा मण्डी शुल्क भी कम कर दिया गया है। 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मिर्च की फसल में पत्ती मरोड़ रोग व निदान

सरकार ने जारी किया रबी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य