कृषि यंत्रीकरण एवं क्राॅप रेज्ड्यू मैनेजमेंट के अंतर्गत 141936 उन्नत कृषि यंत्र का वितरण

उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री, श्री सूर्य प्रताप शाही के निर्देशन में कृषि विभाग वर्तमान युग में किसानों को कृषि यंत्रीकरण योजनांतर्गत आधुनिक खेती के संसाधन मुहैया कराने के साथ-साथ फसल अवशेष प्रबंधन हेतु क्राॅप रेज्ड्यू मैनेजमेण्ट के अंतर्गत अनुदान पर कृषि यंत्र उपलब्ध करा रहा है। कृषि विभाग द्वारा अवगत कराया गया कि कृषि यंत्रीकरण एवं क्राॅप रेज्ड्यू मैनेजमेंट को सम्मिलित करते हुए अब तक 141936 उन्नत कृषि यंत्र का वितरण तथा 3753 कस्टम हायरिंग सेन्टर एवं 2314 फार्म मशीनरी बैंक की स्थापना करायी जा चुकी है।

कृषि विभाग से प्राप्त विस्तृत जानकारी के अनुसार वर्ष 2020-21 में एन.एफ.एस.एम., आर.के.वी.वाई., एन.एम.ओ.ओ.पी. एवं एस.एम.ए.एम. योजनाओं के अन्तर्गत माह नवम्बर, 2020 तक 13684 उन्नत कृषि यंत्रों का वितरण एवं 03 कस्टम हायरिंग सेन्टर की स्थापना करायी जा चुकी है। वर्ष 2019-20 में विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत कुल 34496 कृषि यंत्रों का वितरण किया गया।
इसी प्रकार कृषि यंत्रीकरण के अन्तर्गत वर्ष 2018-19 में विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत कुल 32870 कृषि यंत्रों का वितरण किया गया तथा 12 कस्टम हायरिंग सेंटर एवं 138 फार्म मशीनरी बैंक की स्थापना करायी गयी। वर्ष 2017-18 में किसानों को कुल 39417 उन्नत कृषि यंत्र अनुदान पर वितरित किये गये, 47 कस्टम हायरिंग सेंटर तथा 517 फार्म मशीनरी बैंक की स्थापना करायी गयी।
    कृषि विभाग द्वारा अवगत कराया गया कि एन0जी0टी0, भारत सरकार के निर्देशों के क्रम में प्रमोशन आफ एग्रीकल्चर मैकेनाइजेशन फार इन-सीटू मैनेजमेण्ट आॅफ क्राॅप रेज्ड्यू योजनान्तर्गत वर्ष 2020-21 में माह नवम्बर, 2020 तक 2959 उन्नत कृषि यंत्र एवं 1400 फार्म मशीनरी बैंक की स्थापना करायी जा चुकी है। वर्ष 2019-20 में 2104 कृषि यंत्र, 1391 कस्टम हायरिंग सेण्टर तथा 259 फार्म मशीनरी बैंक की स्थापना करायी जा चुकी है। इसी प्रकार वर्ष 2018-19 में 16406 उन्न्त कृषि यंत्रों का वितरण तथा 2300 कस्टम हायरिंग की स्थापना करायी गयी

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मिर्च की फसल में पत्ती मरोड़ रोग व निदान

सरकार ने जारी किया रबी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य