चक्रवाती हवाओं से बदल रहा है मौसम










एक नया पश्चिमी आज रात से पश्चिमी हिमालयी राज्यों को प्रभावित करना शुरू करेगा। इस समय यह सिस्टम उत्तरी पाकिस्तान और इससे सटे जम्मू कश्मीर के ऊपर है।

दक्षिण भारत में केरल के तटीय भागों से दक्षिणी श्रीलंका तक एक ट्रफ रेखा बनी हुई है।

बांग्लादेश और इससे सटे भागों के ऊपर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है।

पिछले 24 घंटों के दौरान देश भर में हुई मौसमी हलचल

बीते 24 घंटों के दौरान असम और अरुणाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई।

देश के उत्तर-पश्चिमी, मध्य और पूर्वी हिस्सों में दिन और रात के तापमान में गिरावट दर्ज की गई है।

तापमान में गिरावट के बावजूद राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, गुजरात के कुछ हिस्सों, विदर्भ, मध्य प्रदेश और पूर्वी भारत में अधिकतम तापमान सामान्य से 3 से 6 डिग्री अधिक बने रहे।

अगले 24 घंटों के दौरान मौसम की संभावित गतिविधि

आगामी 24 घंटों के दौरान अरुणाचल प्रदेश और इससे सटे भागों में कुछ स्थानों पर हल्की बारिश होने की संभावना है।

गंगा के मैदानी भागों में उत्तर से चलने वाली तेज मध्यम से तेज़ हवाएँ अगले 24 से 48 घंटों तक जारी रहेंगी।

उत्तर पश्चिम दिशा से चल रही मध्यम हवाओं के कारण दिल्ली और एनसीआर के प्रदूषण में कुछ और कमी आ सकती है।

उत्तर-पश्चिम भारत के साथ-साथ मध्य और पूर्वी भारत के राज्यों में दिन और रात के तापमान में आगामी 48 घंटे तक कुछ और गिरावट हो सकती है। हालांकि गिरावट के बाद भी यह अधिकांश शहरों में सामान्य से ऊपर ही बना रहेगा।