बंगाल में खूब दहाड़े योगी,रोड शो में उमड़ी भीड़

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पश्चिम बंगाल में शनिवार को खूब दहाड़े। टीएमसी और ममता सरकार पर सीधा हमला बोल रहे योगी ने कांग्रेस और वामपंथियों को भी निशाने पर रखा। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि बंगाल की धरती को टीएमसी के गुंडों ने गुंडागर्दी और अराजकता की धरती बना दिया है । कांग्रेस वामपंथी दलों और टीएमसी ने यहां के पूरे वातावरण को अराजकता में बदलकर तुष्टीकरण की भेंट चढ़ा दिया है। रोड शो में उमड़ी समर्थकों की भीड़ से ममता सरकार उखाड़ फेंकने का आहवान करने हुए योगी ने कहा कि आपकी संख्‍या बता रही है कि 2 मई दीदी गई। योगी ने शनिवार को हावड़ा पश्चिम और  हावड़ा उत्‍तर में रोड शो करने के बाद डायमंड हार्बर,  कुलतली में जनसभा की।

अपने आक्रामक अंदाज में विरोधियों पर हमला कर रहे सीएम योगी ने कहा कि  बंगाल की धरती रामकृष्ण की धरती है। मैं भी राम और कृष्ण की धरती मथुरा, अयोध्या से आया हूँ। लेकिन बंगाल की इस पवित्र धरती को टीएमसी के गुंडों ने गुंडागर्दी और अराजकता की धरती बना दिया है।   कांग्रेस,वामपंथी दलों और टीएमसी ने यहां के पूरे वातावरण को अराजकता में बदलकर तुष्टीकरण की भेंट चढ़ा दिया है।

योगी ने कहा कि रुझान बता रहे हैं कि भारतीय जनता पार्टी भारी बहुमत से बंगाल में सरकार बनाने जा रही है। बंगाल की धरती परिवर्तन की अंगड़ाई ले रही है। इस रोड शो में उमड़ी भीड़ बता रही है कि 2 मई दीदी गई। परिवर्तन इसलिए भी आवश्यक है क्योंकि ममता दीदी, जो अब तक भाजपा का विरोध करती थीं, वो अब भगवान राम का भी विरोध करने लगी हैं । मुख्‍यमंत्री ने कहा कि हमारे यहां कहा गया है कि "जाके प्रिय न राम वैदेही,तजिये ताहि कोटि बैरी सम,जद्दपि परम सनेही"। यानी जो राम का विरोधी है ,मां जानकी का विरोधी है, वह चाहे कितना भी आपका प्रिय क्यों न हो,उसको एक बैरी की तरह पूरी तरह त्याग देना चाहिए। देश और बंगाल के हित मे यह  जरूरी हो गया है। इस रामद्रोही, भ्रष्टाचारी और गुंडागर्दी को संरक्षण देने वाली टीएमसी की सरकार को सत्ता से हटाकर,बंगाल के अंदर बंगाल के महापुरुषों की  भावनाओं के अनुरूप सरकार बनानी है। जिन्होंने बंगाल को "सोनार बांग्ला" बनाने के सपने को देखा था और संकल्प लिया था।

योगी ने कहा कि बंगाल ने देश को राष्ट्रगान दिया है, राष्ट्रीय गीत दिया है। बंगाल क्रांतिकारियों की भूमि रही है। बंगाल में तुष्टिकरण के नाम पर बहुसंख्यक समुदाय की भावनाओं के साथ खिलवाड़ हो रहा है। दो साल पहले यहां की सरकार ने दुर्गापूजा को प्रतिबंधित करने का कार्य किया था, तब कलकत्ता हाईकोर्ट ने कहा था कि जब दुर्गापूजा उत्तर प्रदेश में हो सकती है तो बंगाल में क्यों नही ।

जनसभा के मंच से योगी बोले मैं जानता हूँ, टीएमसी के गुंडों ने आपको रात भर परेशान किया है, लेकिन आप सब उनको दुत्कारते हुए भाजपा के समर्थन में इस सभा मे आये हैं। सिर्फ 30 दिन बचे हैं, एक एक दिन कम हो रहा है। ये टीएमसी के गुंडे उसी प्रकार जान की भीख मांगेंगे जैसे उत्तर प्रदेश में गुंडे माफिया जान की भीख मांगते हैं। कानून के दायरे में लाकर इन गुंडों को सबक सिखाएंगे। मुझे पता लगा कि टीएमसी के गुंडे मेरी ये सभा नहीं होने नही देना चाह रहे थे। लेकिन मैंने कहा कि चाहे 2 लोग होंगे, मैं ये जनसभा करूँगा।

योगी ने जनसभा में समर्थकों से आह्रवान करते हुए कहा कि आपने कांग्रेस ,कम्युनिस्टों को 60 साल दिए,10 वर्ष टीएमसी को दिए। 5 वर्ष भारतीय जनता पार्टी को दीजिये। आप की आस्था के साथ खिलवाड़ करने का दुस्साहस कोई नही कर पायेगा। भारतीय जनता पार्टी किसान को सम्मान निधि, प्रधानमंत्री आवास के माध्यम से हर जरूरतमंद को सिर पर छत , वृद्धावस्था, दिव्यांगजन और महिला को पेंशन की गारंटी देती है। भारतीय जनता पार्टी जो  कहती है वो करके दिखाती है। कश्मीर से धारा 370 खत्म करके, अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण का कार्य शुरू करके दिखा दिया है।

बंगाल के अंदर रोजगार की स्थिति खराब है, यहां के सरकारी कर्मचारियों को 7 पे कमीशन नही मिला। उत्तर प्रदेश के हमारे चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी को जितना वेतन मिलता है, उतना यहां क्लास1 के अधिकारी को वेतन और सुविधा नही मिलती।

यहां की राज्य सरकार भेदभाव और भ्र्ष्टाचार में इतना पैसा खर्चा करती है, वो कर्मचारियों की सुविधा नही देती।योगी ने कहा 

 उत्तर प्रदेश में 4 वर्षो से बीजेपी की सरकार है और इन 4 वर्ष में हमारी सरकार ने 40 लाख गरीबो को प्रधानमंत्री आवास दिया, मैं ममता दीदी से पूछता हूँ कि आपने दस वर्षों में कितने आवास दिए?

4 वर्ष में हमने उत्तर प्रदेश में 1 लाख 21 हजार गांवों को विद्युतीकरण से जोड़ा।एक करोड़ से अधिक गरीबो को निशुल्क विद्युत कनेक्शन दिए। बंगाल में ये सुविधाएं क्यों नही मिलती?

उत्तर प्रदेश में अब माफियागिरी नही चलती, जो गरीबो के सम्पत्ति पर कब्जा करते थे,आज उनके ऊपर बुलडोज़र चल रहे हैं।