चुनाव निपटते ही डीजल पेट्रोल के दामों में वृद्धि


लखनऊ - पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव और यूपी में पंचायत चुनाव खत्म होते ही महंगाई का लोगो को झटका लगना शुरू हो गया है।

कोविड-19 की महामारी के बीच जनता की जेब पर एक बार फिर महंगाई का बढ़ने लगा है बोझ,सरकारी तेल कंपनियों ने आज लगातार दूसरे दिन भी पेट्रोल और डीजल के दाम में की बढ़ोतरी,कल भी पेट्रोल और डीजल दोनों ईंधनों के दामों में बढ़ोतरी हुई थी। 

चुनाव के दौरान दो महीने से भी ज्यादा अवधि के दौरान पेट्रोल-डीजल के दाम में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई थी। 

जबकि इस दौरान कच्चे तेल के बाजार के दाम में उल्लेखनीय घट-बढ़ रही थी।

लखनऊ में आज पेट्रोल के दाम ₹88.97 पैसा हैं तो वही डीजल के दाम ₹81.51 पैसा पहुंच चुका है।

चुनाव आयोग ने बीते 26 फरवरी को अधिसूचना जारी की थी।इसके बाद सरकारी तेल कंपनियों ने अंतिम बार 27 फरवरी 2021 को डीजल के दाम में 17 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की थी। 

इसके बाद दो महीने से भी ज्यादा दिनों तक इसके दाम में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई।हालांकि बीते मार्च-अप्रैल के दौरान डीजल के दाम में ठहर ठहर कर चार दिन कटौती हुई।इस वजह से यह 74 पैसे प्रति लीटर सस्ता हो चुका था।

पेट्रोल-डीजल के भाव रोजाना बदलते हैं और सुबह 6 बजे अपडेट हो जाते हैं।