17 राज्यों को 9,871 करोड़ रुपये की अनुदान


वित्त मंत्रालय के व्यय विभाग ने आय से अधिक खर्च होने पर होने वाले राजस्व घाटे (पीडीआरडी) की भरपाई करने के लिये नौ अगस्त, 2021 को राज्यों को 9,871 करोड़ रुपये की पांचवीं किस्त जारी कर दी। इस किस्त के जारी होने के साथ मौजूदा वित्त वर्ष में पीडीआरडी के तौर पर पात्र राज्यों को कुल 49,355 करोड़ रुपये की धनराशि जारी की जा चुकी है।

इस महीने अनुदान प्राप्त राज्यों और 2021-22 के दौरान राज्यों को जारी होने वाली पीडीआरडी अनुदान का ब्योरा नीचे दिया जा रहा है।

राज्यों को संविधान के अनुच्छेद 275 के तहत पीडीआरडी अनुदान प्रदान किया जाता है। पंद्रहवें वित्त आयोग की सिफारिशों के अनुसार राज्यों को मासिक किस्त के तौर पर अनुदान दिया जाता है, ताकि राज्यों की आय और व्यय के बीच के अंतराल को पूरा किया जा सके। आयोग ने सिफारिश की थी कि 2021-22 के दौरान 17 राज्यों को पीडीआरडी अनुदान दिया जाये।

यह अनुदान प्राप्त करने के लिये कौन से राज्य पात्र हैं, इसका फैसला वित्त आयोग करता है। वह राज्यों की आय और खर्च के अंतराल को आधार बनाकर फैसला करता है। इसके तहत वित्त वर्ष 2021-22 के लिये मूल्यांकन किया गया।

पंद्रहवें वित्त आयोग ने वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान 17 राज्यों को पीडीआरडी अनुदान के रूप में 1,18,452 करोड़ रुपये जारी करने की सिफारिश की थी। इस धनराशि में से अब तक कुल 49,355 करोड़ रुपये (41.67 प्रतिशत) की रकम जारी की गई है।

पंद्रहवें वित्त आयोग ने पीडीआरडी अनुदान के लिये जिन राज्यों की सिफारिश की थी, उनमें आंध्रप्रदेश, असम, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक, केरल, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड, पंजाब, राजस्थान, सिक्किम, तमिलनाडु, त्रिपुरा, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल शामिल हैं।

पीडीआरडी अनुदान प्राप्त करने वाले राज्यों का ब्योरा

 

क्रम संख्या

राज्य का नाम

अगस्त 2021 में जारी रकम (पांचवीं किस्त) (करोड़ रुपये में)

(करोड़ रुपये में)

2021-22 के दौरान जारी होने वाली कुल रकम (करोड़ रुपये में)

(करोड़ रुपये में)

 

आंध्रप्रदेश

1438.08

7190.42

 

असम

531.33

2656.67

 

हरियाणा

11.00

55.00

 

हिमाचल प्रदेश

854.08

4270.42

 

कर्नाटक

135.92

679.58

 

केरल

1657.58

8287.92

 

मणिपुर

210.33

1051.67

 

मेघालय

106.58

532.92

 

मिजोरम

149.17

745.83

 

नगालैंड

379.75

1898.75

 

पंजाब

840.08

4200.42

 

राजस्थान

823.17

4115.83

 

सिक्किम

56.50

282.50

 

तमिलनाडु

183.67

918.33

 

त्रिपुरा

378.83

1894.17

 

उत्तराखंड

647.67

3238.33

 

पश्चिम बंगाल

1467.25

7336.25

 

योग

9,871.00

49,355.00