पश्चिम उत्तर प्रदेश में ब्रेक और पूर्वांचल में जारी रहेगा मानसून

चन्द्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय कानपुर  के मौसम विज्ञानी ने बताया कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश सहित उत्तर प्रदेश के पश्चिमी जिलों में हम फिर आंशिक ब्रेक मानसून फेज में प्रवेश कर रहे है। चंद्र शेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय कानपुर के मौसम विभाग एवं भारतीय मौसम विज्ञान विभाग आईएमडी के अनुसार तीन से चार दिन मानसून ब्रेक की स्थिति में पश्चिमी उत्तर प्रदेश में रहेगा लेकिन लेकिन तराई के जिलों नेपाल से सटे और पूर्वी उत्तर प्रदेश के बिहार से सटे जिलों में बारिश की हल्की से मध्यम गतिविधियां जारी रहेंगी। पिछले कुछ दिनों से बिहार और उत्तर प्रदेश के पूर्वी हिस्सों में अच्छी बारिश और गरज के साथ बौछारें जारी रही उत्तर प्रदेश के पश्चिमी जिलों में भी पिछले दो-तीन दिनों के दौरान तेज बारिश रिकॉर्ड की गई अब उत्तर प्रदेश के पश्चिमी भागों में 24 अगस्त से 25 अगस्त तक बारिश की गतिविधियों में कमी आने की पूरी संभावना है यह कमी मानसून की अच्छी रेखा पश्चिमी के उत्तर की ओर खिसकने और हिमालय की तलहटी की ओर बढ़ने के कारण होगी हवाएं पूर्व से पश्चिम दिशा में बदल जाएंगी हम कह सकते हैं कि उत्तर प्रदेश के पश्चिमी हिस्सों में आद्रता तत्वों की जगह शुष्क और गर्म पश्चिम हवाएं चलेंगी। 1 जून से 20 अगस्त के बीच उत्तर प्रदेश के पश्चिमी भागों में 19 पर्सेंट वर्षा की कमी और पूर्वी उत्तर प्रदेश में 5 परसेंट वर्षा की कमी है

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मिर्च की फसल में पत्ती मरोड़ रोग व निदान