त्योहारों के मौसम में हो सकती है बत्ती गुल

नई दिल्ली; त्योहारों के मौसम में बिजली की मांग बढ़ने और कोयले के गहराते संकट के चलते आने वाले दिनों में बिजली गुल हो सकती है। केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण (सीईए)  की रिपोर्ट के मुताबिक, 90 से ज्यादा पावर प्लांट के पास चार दिन से कम कोयला भंडार है। वहीं 16 पावर प्लांट ऐसे हैं, जिनके पास फौरन कोयला नहीं पहुंचा तो किसी भी वक्त उत्पादन बंद करना पड़ सकता है।

सीईए की बिजली संयंत्रों के लिए कोयला भंडार पर चार अक्तूबर की रिपोर्ट के मुताबिक, 25 संयंत्रों के पास एक दिन, 20 के पास दो दिन, 14 के पास तीन दिन और 16 संयंत्रों के पास चार दिन का कोयला उपलब्ध है। इसके अलावा 8 बिजली उत्पादन संयंत्रों के पास पांच दिन, 8 संयंत्रों के पास छह दिन और एक संयंत्र के पास सात दिन का कोयला उपलब्ध है। किसी भी संयंत्र के पास आठ दिन का स्टॉक नहीं है