आंधी और बारिश ने किसानों के सपनों पर फेरा पानी

 बारिश और आंधी से धान की फसल को भारी नुकसान, कैसे होगी भरपाई! 

बारिश की वजह से देश के कई हिस्सों में किसानों की फसल बर्बाद हो गई है. कहीं सोयाबीन, कहीं कपास, कहीं सब्जियां तो कहीं धान की फसल पर बारिश ने पानी फेर दिया है. कई क्षेत्रों में धान की फसल  या तो पक चुकी है या फिर उसकी कटाई चल रही है. जहां पर फसल अभी खड़ी थी उसे आंधी और बारिश ने जमीन पर गिरा दिया है. जिसकी वजह से अब उसकी कटाई में किसानों को मशक्कत करनी पड़ रही है. किसानों को उसे पानी में से छानकर निकालना पड़ रहा है.उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल में कई जगहों पर धान की कटी हुई फसल पानी में डूब गई है. इससे काला नमक धान भी प्रभावित हुआ है. सिद्धार्थनगर, महाराजगंज, बस्ती, संत कबीर नगर और गोरखपुर, सीतापुर, लखीमपुर, कानपुर, हरदोई , फतेहपुर, बांदा, बाराबंकी, गोंडा, देवरिया, बस्ती सहित कई जगहों पर फसलों पर बारिश की मार पड़ी है. हालांकि, यूपी में अब तक फसल नुकसान  की भरपाई के लिए मुआवजे की घोषणा नहीं हुई है. यही हाल हरियाणा का भी है. जहां हरियाणा का भी यहां के कई जिलों में धान की फसल को नुकसान पहुंचा है. फरीदाबाद एवं पलवल में भी नुकसान हुआ है. यही नहीं बारिश की वजह से खरीद भी प्रभावित हुई है.