ज़हरीली हुई दिल्ली की हवा

देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्‍ली और आसपास के इलाकों में सर्दियों की आहट के साथ वायु गुणवत्ता खराब होने लगी है. यही नहीं, दिल्‍ली समेत उत्‍तर प्रदेश और हरियाणा के कई शहरों में वायु गुणवत्ता खराब श्रेणी में पहुंच गयी है. इसके पीछे एक अहम कारण पंजाब, हरियाणा, उत्‍तर प्रदेश और मध्‍य प्रदेश में पराली जलाने की बढ़ती घटनाएं हैं। 

बहरहाल, राजधानी से सटे यूपी के ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में वायु गुणवत्ता सूचकांक 400 के पार चल गया है. वहीं, यूपी के मेरठ शहर पर वायु प्रदूषण की जोरदार मार पड़ रही हैं और यहां एक्‍यूआई 500 के पार है, जो कि खतरनाक श्रेणी में आता है. वहीं, एनसीआर के शहरों में लगातार बढ़ रहा प्रदूषण का स्तर चिंता बढ़ा रहा है. देश के सबसे प्रदूषित शहरों की लिस्ट में ज्‍यादातर दिल्‍ली-एनसीआर के इलाके शामिल हैं। 

दिल्‍ली में लगातार खराब हो रही हवा केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के आंकड़ों के अनुसार, पिछले कुछ दिनों तक सामान्‍य श्रेणी में रहने वाली दिल्ली की वायु गुणवत्ता खराब श्रेणी पहुंच गयी है. जबकि वायु गुणवत्ता सूचकांक 244 पहुंच गया है. इस दौरान फरीदाबाद में एक्‍यूआई 250 दर्ज किया गया है. इसके अलावा करनाल, मानेसर, गुरुग्राम, बुलंदशहर, भिवाड़ी, यमुनागर, हिसार और हापुड़ की हवा भी बहुत खराब है. एक्यूआई में पीएम 2.5 पीएम 10, ओजोन और नाइट्रोजन गैसों का स्तर शामिल है. वहीं, अगर पराली जलाने का दौरान नहीं थमा तो स्थिति बेहद खतरनाक हो सकती है।