बदल रहा है मौसम,हो जाइए सावधान

नई दिल्ली, मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के कारण पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी होने से दिसंबर के पहले हफ्ते में दिल्ली-एनसीआर में भारी बारिश (Heavy Rain) होने की संभावना हैं।  आने वाले दिनों में बारिश के साथ तेज हवाओं से तापमान 5 डिग्री सेल्सियस तक नीचे जा सकता है। इस दौरान करीब 10 किलोमीटर की रफ्तार से तेज हवाएं चलेंगी, मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि अगले सप्ताह तक न्यूनतम तापमान तीन डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है। इस दौरान हवाओं की गति बढ़ने से वायु गुणवत्ता सूचकांक में सुधार होगा। हालांकि कोहरा मुसीबत का सबब बनेगा। मौसम विभाग का कहना है कि इस बार पिछलेे सालों के मुकाबले अधिक समय तक कड़ाके की ठंड पड़ सकती है।

मौसम विभाग का कहना है कि बंगाल की खाड़ी में चक्रवात बन रहा है, जिससे 4 दिसंबर के बाद हवा में नमी बढ़ जाएगी। फिलहाल पश्चिमी विक्षाेभ पाकिस्तान के ऊपर है, जो अब भारत की तरफ बढ़ रहा है। पश्चिमी विक्षोभ के कारण 5 और 6 दिसंबर को दिल्ली एनसीआर में हल्की बारिश का अनुमान है। 7 दिसंबर से यूपी समेत कई राज्यों में भारी बारिश के आसार हैं। इससे न्यूनतम और अधिकतम तापमान में अप्रत्याशित गिरावट दर्ज की जाएगी। बारिश और शीतलहर के कारण न्यूनतम तापमान पांच डिग्री तक नीचे जा सकता है।

मौसम वैज्ञानिक महेश पलावल के मुताबिक, पश्चिमी विक्षोभ के कारण दिसंबर के पहले हफ्ते भारी बारिश की संंभावना है। इस बार सर्दी अपने पिछलेे रिकॉर्ड तोड़ेगी। वहीं, चिकित्सकों ने बुजुर्ग और बच्चों को विशेष ध्यान रखने की चेतावनी दी है। चिकित्सकों का कहना है कि ठंड के मौसम में पेट से संबंधित और खांसी-जुकाम की बीमारी अधिक होती है। इसलिए जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकले और निकले भी तो गर्म कपड़े पहनकर ही निकलें।

दिल्ली एनसीआर में अगले कुछ दिनों में जहां वायु प्रदूषण से राहत मिलेगी, वहीं कोहरा मुसीबत बढ़ाएगा। बता दें कि अभी भी नोएडा, गाजियाबाद और ग्रेटर नोएडा में एक्यूआई करीबन 400 के आसपास चल रहा है। आगामी दिनों में तेज हवाएं चलने से आबोहवा साफ होने के आसार हैं, लेकिन इस दौरान कोहरे के चलते दृश्यता कम जरूर हो सकती है।