04 फरवरी से राजभवन प्रांगण में तीन दिवसीय प्रदर्शनी का आयोजन

कृषि उत्पादन आयुक्त, उ0प्र0/उपाध्यक्ष, प्रादेशिक फल, शाकभाजी आगामी 04 फरवरी से एवं पुष्प प्रदर्शनी समिति की अध्यक्षता में लोकभवन, लखनऊ स्थित सभाकक्ष में राजभवन प्रांगण में आयोजित होने वाली तीन दिवसीय प्रादेशिक फल, शाकभाजी एवं पुष्प प्रदर्शनी-2022 की तैयारी हेतु बैठक आयोजित की गई। जिसमें निर्णय लिया गया कि कोविड़-19 के दिशा-निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करते हुए दिनांक 4, 5 एवं 6 फरवरी, 2022 को प्रदर्शनी का आयोजन किया जायेगा।

यह जानकारी उद्यान विभाग के निदेशक डा0 आर0के0 तोमर ने देते हुए बताया कि समिति द्वारा यह भी महत्वपूर्ण निर्णय लिए गये कि प्रदर्शनी को और अधिक आकर्षक बनाने एवं प्रतिभागियों में प्रतियोगी भावना विकसित करने के उद्देश्य से प्रदर्शनी में सर्वाधिक अंक के रूप में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान पाने वाले तथा प्रत्येक क्लास में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले प्रतिभागियों को पुरस्कार के रूप में नकद धनराशि से भी पुरस्कृत किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस प्रदर्शनी के माध्यम से उत्पादक प्रोत्साहित हो सकेंगे और उच्च गुणवत्तायुक्त उत्पादों के साथ प्रदर्शनी में प्रतिभाग कर सकेंगे। जिसके लिए अपर मुख्य सचिव, उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण उ0प्र0 की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया गया है, जो नकद धनराशि का निर्धारण करेगी।
उद्यान निदेशक ने बताया कि प्रदर्शनी में आयोजित की जाने वाली उद्यानों व गृहवाटिकाओं की प्रतियोगिता में लखनऊ से बाहर के अन्य जनपदों के उद्यानप्रेमी भी भाग ले सकेंगे। प्रदेश के सभी जनपदों के उद्यान अधिकारियों द्वारा यह सुनिश्चित किया जायेगा कि वे अपने-अपने जनपदों के प्रगतिशील कृषकों को शाकभाजी, फलों, पुष्प आदि विभिन्न वर्गों में अधिकाधिक संख्या में उच्चकोटि के प्रदर्शाे को प्रदर्शित करने हेतु प्रेरित करें तथा सर्वाधिक पुरस्कार प्राप्तकर्ता जनपद के उद्यान अधिकारी को प्रशस्ति पत्र द्वारा सम्मानित किया जाये।
डा0 आर0के0 तोमर ने बताया कि प्रदर्शनी स्थल पर कलात्मक पुष्प सज्जा के वर्ग में प्रतिभाग करने वाले बच्चों व महिलाओं तथा मालियों के प्रदर्शाे को अलग-अलग पण्डालों में प्रदर्शित कराया जायेगा। इस वर्ष प्रदर्शनी में आने वाले दर्शकों व बच्चों आदि को राजभवन प्रांगण में नव-निर्मित पंचतन्त्र की कहानियों पर आधारित तैयार किए गये उद्यान के अवलोकन का भी अवसर प्राप्त हो सकेगा। प्रदर्शनी में इस वर्ष प्रतिभाग करने के लिए उद्यान विभाग द्वारा विकसित किए जा रहे पुष्प प्रदर्शनी के पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन पंजीकरण कराया जायेगा।
उद्यान निदेशक ने बताया कि इस वर्ष कोविड-19 को दृष्टिगत रखते हुए प्रदर्शनी में प्रत्येक प्रतिभागी व दर्शक यह सुनिश्चित कर लें कि उन्हें कोविड-19 वैक्सीन की दोनों डोज लगी हो तथा प्रतियोगिता के विजेता प्रतिभागी को माननीय श्री राज्यपाल महोदया व अन्य माननीयों से पुरस्कार प्राप्त करने हेतु गत् 48 घण्टे के अन्दर की त्ज्-च्ब्त् निगेटिव की रिपोर्ट साथ लाना अनिवार्य होगा। उक्त के साथ-साथ समस्त उद्यानप्रेमियों से यह भी आग्रह किया गया कि प्रदर्शनी हेतु वे अभी से अपने-अपने उद्यानों/गृहवाटिकों आदि की तैयारी कर लें।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ब्राह्मण वंशावली