भारत निर्वाचन आयोग के निर्देश

भारत निर्वाचन आयोग ने एक मजबूत लोकतंत्र और इसमें सबकी भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए 25 जनवरी, 2022 को 12वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के रूप में मनाए जाने का निर्देश दिया है। आयोग के अनुसार 25 जनवरी के दिन 12th नेशनल वोटर्स डे को संपूर्ण देश में ‘चुनाव को समावेशी, सुगम और सहभागी बनाना’(Making Election Inclusive, Accessible and Participative) विषय की मूल भावना को लेकर मनाया जाएगा तथा मतदाताओं को स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण मतदान हेतु अपने मताधिकार का प्रयोग करने की शपथ दिलायी जाएगी। इसी क्रम में गत वर्षाे की भांति पूरे प्रदेश में उ0प्र0 विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 के संदर्भ में मतदाता दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा, जिससे कि मतदान के प्रति मतदाताओं में जागरूकता आए और सबकी भागीदारी से हमारे देश में लोकतंत्र को मजबूती मिले। मतदाताओं को जागरूक करने के लिए प्रदेश स्तरीय राष्ट्रीय मतदाता दिवस का आयोजन पूर्वाह्न 11ः30 बजे से अपराह्न 12ः30 बजे तक इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान, गोमती नगर, लखनऊ में किया जायेगा, जिसमें मा0 राज्यपाल महोदया श्रीमती आनन्दीबेन पटेल उ0प्र0 मुख्य अतिथि होंगी। इस कार्यक्रम का सजीव प्रसारण लिंक https://youtu.be/EbQWKSNN1iI के माध्यम से ऑनलाइन पूरे प्रदेश में किया जायेगा।

उत्तर प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री अजय कुमार शुक्ला ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि भारत निर्वाचन आयोग के उद्देश्य के अनुरूप 25 जनवरी को संपूर्ण प्रदेश में आयोग द्वारा निर्धारित थीम पर कोविड-19 की गाइडलाइन के अनुरूप मतदाता जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इसके लिए सभी मंडलायुक्तों, जिला निर्वाचन अधिकारियों/जिलाधिकारियों को जहां तक संभव हो सके, ऑनलाइन मोड पर इस उत्सव को मनाने के लिए निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम में गणमान्य व्यक्तियों के साथ वयोवृद्ध, दिव्यांग, ट्रांसजेंडर तथा महिलाओं एवं नवयुवकों की भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी तथा इस दिन प्रदेश भर में स्कूल/कॉलेजों में छात्र/छात्राओं के बीच निबंध प्रतियोगिता और वाद-विवाद प्रतियोगिता भी आयोजित की जायेंगी।
मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग ने राष्ट्रीय मतदाता दिवस संबंधी कार्यक्रम एवं क्रिएटिव को अधिक से अधिक सोशल मीडिया हैंडल्स/वेबसाइट्स में NVD2022  का प्रयोग करते हुए अपलोड करने की अपील की है। आयोग ने निर्देश दिए हैं कि इस दिन मतदाताओं को जागरूक करने के लिए पोस्टल बैलट, मतदेय स्थलों पर उपलब्ध सुविधाएं, ईवीएम, वीवीपैट, वोटर हेल्पलाइन एप तथा एथिकल वोटिंग की जानकारी से संबंधित फिल्म/प्रदर्शनी को दिखाया जाए तथा प्रत्येक पोलिंग स्टेशन पर बीएलओ द्वारा नए मतदाताओं को वोटर कार्ड उपलब्ध कराया जाए।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ब्राह्मण वंशावली