मुझे खेद है, कोई चूक नहीं हुई - सीएम चन्नी

 
चंडीगढ़, पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक से इनकार किया है। उन्होने कहा कि मुझे खेद है कि पीएम मोदी को  फिरोजपुर जिले के दौरे के दौरान वापस लौटना पड़ा, हम अपने पीएम का सम्मान करते हैं। सीएम चन्नी ने अपनी सफाई में आगे कहा कि हमारे देश में एक लोकतांत्रिक व्यवस्था है। मुझे भी मोदी के स्वागत में जाना था, लेकिन सहयोगी के कोरोना पॉजिटिव निकलने पर मैं नहीं गया। इसलिए मैंने वित्त मंत्री मनप्रीत बादल और डिप्टी सीएम को पीएम मोदी के स्वागत करने की ड्यूटी सौंपी।

             चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि प्रधानमंत्री की सड़क मार्ग से यात्रा करने की योजना अंतिम समय में बनाई गई थी. एक स्थानीय टीवी चैनल पर बोलते हुए, सीएम ने कहा, "कोई सुरक्षा चूक नहीं हुई है। मैं कल देर रात उनकी रैली की सुरक्षा व्यवस्था देख रहा था। पीएम की सड़क की योजना अंतिम समय में बनाई गई थी, उन्हे‌ पहले हेलीकॉप्टर से यात्रा करनी थी। दरअसल, पीएम मोदी पंजाब बठिंडा पहुंचे थे, यहां से उन्हें हेलिकॉप्टर से हुसैनीवाला में राष्ट्रीय शहीद स्मारक जाना था। लेकिन खराब रोशनी और बारिश के चलते पीएम मोदी 20 मिनट तक इंतजार करते रहे। मौसम में सुधार नहीं हुआ, तो उन्होने सड़क के रास्ते राष्ट्रीय शहीद स्मारक जाने का फैसला किया। इस रास्ते से 2 घंटे का समय लगना था।

             पंजाब डीजीपी से सुरक्षा प्रबंधों की पुष्टि के बाद पीएम मोदी सड़क के रास्ते आगे बढ़े।राष्ट्रीय शहीद स्मारक से करीब 30 किमी पहले पीएम मोदी का काफिला जब फ्लाईओवर पर पहुंचा, तो यहां कुछ प्रदर्शनकारियों ने रास्ता रोक रखा था। इसके चलते पीएम मोदी के काफिले को 15-20 मिनट तक फ्लाईओवर पर रुकना पड़ा।