भाजपा नेता ने पुत्र प्रेम में कोतवाल को धमकाया -देखिये विडीयो

औरैया में बेटे को थाने में बैठाने पर भाजपा नेता अपना आपा खो बैठे। उन्होंने सीओ के सामने कोतवाल को धमकी दी। साथ ही गालियां भी दी। मामला रंगदारी मांगने का था। जिसके बाद ये पूरा विवाद हुआ। विवाद जातिय संघर्ष में बदलने लगा है। पुलिस ने रंगदारी मांगने के आरोप में पांच नामजद और 60 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था।
जिन पर मुकदमा हुआ वो सभी ठाकुर बिरादरी के हैं। मामले में पूर्व जिला पंचायत अध्य्क्ष दीपू सिंह के बेटे जिला पंचायत सदस्य कर्मवीर सिंह ने सभी को छोड़ने की सिफारिश की। जिसपर कोतवाल ने उसे भी थाने में बिठा लिया।
इसके बाद दीपू सिंह समर्थकों के साथ कोतवाली पहुंचे। उन्होंने कोतवाल सन्तोष अवस्थी पर जातिगत काम करने का आरोप लगाकर जमकर अभद्रता की। कोतवाल और पुलिस बैकफुट पर बनी रही। कोतवाली में घण्टो ये हाई वोल्टेज ड्रामा चला। किसी ने इसका वीडियो भी बना लिया और वायरल कर दिया।
लोगों से करते थे मारपीट
शनिवार की देर शाम शहर में कुछ अराजकतत्वों ने कई लोगों से मारपीट की। जिसमें रंगदारी न देने पर मारपीट की बात सामने आई थी। इस मामले में अर्जुन दीक्षित ने तहरीर दी थी कि उसका गेस्ट हाउस है। 6 माह पहले शनि चौहान ने अपने साथियों के साथ आकर तमंचा दिखाकर रंगदारी मांगी थी। वो डर के कारण हर महीने रंगदारी दे रहा था। इस महीने रुपए नहीं दिए तो शनि, सूरज सिंह, अर्जुन, राजदीप, ब्रजभान समेत 50 से 60 लोगों ने उसके गेस्ट हाउस कर्मचारियों के साथ मारपीट की और फायरिंग भी की।
गिरफ्तार होने वाले ठाकुर जाति के थे
इसी प्रकार रंगदारी की दूसरी शिकायत रुदौली गांव के अनुराग दीक्षित ने बताया कि उनसे भी शनि, राजदीप और ब्रजभान ने तमंचा लेकर घेरा। दो महीने से रंगदारी न देने पर पीटा। किसी तरह उसने जान बचाई। कोतवाली पुलिस ने नामजद समेत 60 पर मुकदमा दर्ज कर लिया। जिसमें कुछ को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। अधिकतर आरोपी ठाकुर जाति के थे।
वीडियो के आधार पर दर्ज होगा केस
बेटे पर कार्रवाई के बाद दीपू सिंह अपना आ पा खो बैठे। उन्होंने कोतवाल को भंगी तक कह डाला। उन्होंने जातिगत काम करने का आरोप लगाकर जमकर अभद्रता और गाली गलौज की। इस दौरान सीओ सुरेंद्र नाथ भी पहुंच गए। कोतवाली में कई घण्टे हाई वोल्टेज ड्रामा चलता रहा। सीओ सुरेंद्र नाथ का कहना है कि वीडियो की जानकारी मिली है। वीडियो के आधार पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ब्राह्मण वंशावली