डरावनी रिपोर्ट

 तेजी से पिघल रहे दुनिया से सबसे ऊंचे ग्लेशियर

काठमांडू, : भारत के पड़ोसी देश नेपाल से एक टेंशन देने वाली खबर सामने आई है। एक अध्ययन के अनुसार दुनिया के सबसे ऊंचे पर्वत शिखर माउंट एवरेस्ट की सबसे चोटी पर जमी सदियों पुरानी बर्फ अब तेजी से पिघलती जा रही है, जो आने वाले वक्त में किसी खतरे की घंटी साबित हो सकती है। एक नई स्टडी में इसको लेकर हैरान कर देने वाला खुलासा हुआ है।

हजारों सालों में तैयार हुआ ग्लेशियल 25 सालों में पिघला

हाल ही में सामने आई नई स्टडी के मुताबिक माउंट एवरेस्ट के शिखर के पास एक ग्लेशियर पर बर्फ, जिसे बनने में सहस्त्राब्दी यानी हजारों साल का समय लगा। अब वो जलवायु परिवर्तन की वजह से पिछले तीन दशकों में सिकुड़ती (पिघलती) जा रही है। यूनिवर्सिटी ऑफ मेन के नेतृत्व में और नेचर की तरफ से इस हफ्ते प्रकाशित किए गए शोध के अनुसार पिछले 25 सालों में दक्षिण कर्नल ग्लेशियर पहले ही अपनी लगभग 55 मीटर (180 फीट) मोटाई खो चुका है।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ब्राह्मण वंशावली

मिर्च की फसल में पत्ती मरोड़ रोग व निदान

सीतापुर में 19 शिक्षक, शिक्षिकायें बर्खास्त