रूस सेना ने यूक्रेन के सैन्य और हवाई अड्डों को बनाया निशाना

यूक्रेन बोला- पीठ नहीं दिखाएंगे

यूक्रेन पर रूस का मिलिट्री एक्शन जारी है, इसमें यूक्रेन पर रूस की तरफ से हवाई हमले भी किए जा रहे हैं. अब रूस की सेना ने बताया है कि उन्होंने यूक्रेन के सैन्य और हवाई अड्डों को निशाना बनाकर तबाह कर दिया है. वहीं दूसरी तरफ यूक्रेन ने सख्त तेवर दिखाते हुए कहा है कि वह हार मानने वाला नहीं है.

रूस की सैन्य कार्रवाई के बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की ने रूसी भाषा में संबोधन दिया है. इस भावुक भाषण में कहा गया है कि यूक्रेन के लोग और सरकार शांति चाहती है. लेकिन अगर हम पर हमला होता है, हमारे देश को हमसे छीनने की कोशिश होती है, आजादी छीनने की कोशिश होती है, हमारी, हमारे बच्चों की जिंदगी छीनने की कोशिश होती है तो हम अपना बचाव करेंगे. जब आप (रूस) हमपर हमला करेंगे तो हमारा सीना देखेंगे, हमारी पीठ नहीं.

रूसी सेना बोली- आम लोगों को नहीं बनाया निशाना

यूक्रेन में मिलिट्री एक्शन पर रूसी सेना का बयान भी आया है. इसमें कहा गया है कि उन्होंने यूक्रेन के एयर बेस, मिलिट्री बेस को निशाना बनाया है. इसके साथ ही कहा गया है कि आबादी वाले क्षेत्रों को निशाना नहीं बनाया गया है. बता दें कि इससे पहले खबर आई थी कि यूक्रेन में कई जगहों पर धमाके हुए हैं. इसमें यूक्रेन की राजधानी कीव पर तो क्रूज और बैलिस्टिक मिसाइलों से हमला होने की जानकारी मिली थी. यूक्रेन की राजधानी कीव के बाद वहां Odessa, Kharkiv, Donetsk में कई धमाके सुनाई दिए थे.

रूस की सैन्य कार्रवाई के बीच यूक्रेन के विदेश मंत्री दिमित्रो कुलेबा ने कहा था कि पुतिन ने पूर्ण पैमाने पर आक्रमण करना शुरू कर दिया है. शांतिपूर्ण यूक्रेन पर हमला हुआ है. यह आक्रामकता का युद्ध है. यूक्रेन इसमें खुद की रक्षा करेगा और जीतेगा. बात यूक्रेन की करें तो वहां हालात बिगड़ते ही जा रहे हैं. इसकी वजह से यूक्रेन के राष्ट्रपति ने अब वहां मार्शल लॉ लगा दिया है. इसके साथ-साथ नागरिकों से रूसी हमले के बीच नहीं घबराने की अपील भी की गई है.

रूस ने शुरू किया सैन्य अभियान

रूस और यूक्रेन के बीच बीते कुछ दिनों से तनातनी थी. लेकिन गुरुवार सुबह रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने यूक्रेन में 'सैन्य अभियान' की घोषणा कर दी. उन्होंने यूक्रेन की सेना से हथियार डालने का आह्वान किया. पुतिन ने कहा कि यूक्रेन में (विशेष मिलिट्री ऑपरेशन की) हमारी योजनाओं में यूक्रेन के क्षेत्र पर कब्जा करना शामिल नहीं है.

अमेरिका और चीन ने क्या कहा?

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन की भी रूसी हमले पर प्रतिक्रिया आई है. बाइडेन बोले कि इस हमले से होने वाली मौतों और तबाही के लिए रूस अकेला जिम्मेदार है. अमेरिका और उसके सहयोगी एकजुट और निर्णायक तरीके से जवाब देंगे. दुनिया इसके लिए रूस को जवाबदेह ठहराएगी. यूक्रेन पर रूस की कार्रवाई पर चीन की प्रतिक्रिया भी आई है. UN में चीनी राजदूत Zhang Jun ने कहा कि संयम बरतकर टेंशन को ज्यादा बढ़ने से रोकना चाहिए.

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ब्राह्मण वंशावली