प्रत्येक दशा में किसान सम्मान निधि हर पात्र व्यक्ति पर पहुॅचे

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य ने मथुरा में लोक निर्माण विभाग के निरीक्षण भवन में जनशिकायतों को सुनते हुए निर्देश दिये हैं कि प्रत्येक फरियादी की शिकायतों को गंभीरता से लिया जाये और उनका निश्चित समय सीमा में निस्तारण किया जाये। अनेक फरियादियों की शिकायतों पर जिलाधिकारी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिये कि उक्त शिकायतों पर वह अपना व्यक्तिगत ध्यान देकर निस्तारण करायें। उन्होंने उपस्थित सभी अधिकारियों को निर्देश दिये कि सरकार की मंशा है कि वह गरीब से गरीब व्यक्ति को न्याय मिले। जनता दरबार में सैकड़ो शिकायतें/समस्याएं आई, जिसमें पुलिस, नगर निगम, बीएसए, डीएसओ, नहर आदि विभागों की शिकायतें प्राप्त हुई।

श्री मौर्य जी ने जन शिकायतें सुनने के पश्चात प्राथमिक विद्यालय दामोदरपुरा का निरीक्षण किया। बच्चों से करीब 20 मिनट वार्ता करके पढ़ाई, शिक्षक के व्यवहार, कितान, ड्रेस, जूते की उपलब्धता आदि की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने बच्चों की कापियों और किताबों का भी अवलोकन किया। उन्होंने बच्चों से मीड डे मील के विषय में विस्तृत जानकारी प्राप्त करते हुए पूछा कि आपको क्या-क्या भोजन दिया जाता है। बच्चों से टीकाकरण के संबंध में भी जानकारी प्राप्त की। कार्यक्रम में दामोदपुरा की मलिन बस्ती वार्ड सं-36 के निवासियों ने उप मुख्यमंत्री जी का तिलक एवं माला पहनाकर स्वागत किया। कार्यक्रम में नगर आयुक्त अनुनय झा ने अवगत कराया कि मलिन बस्ती में 320 स्ट्रीट लाइट लगाई गई हैं। क्षेत्र के सभी हैण्डपम्पों का रिबोर कराया गया है तथा कुछ नये बोर कराये गये हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत लोगों के मकान स्वीकृत किये गये हैं, जिनमें से लगभग सभी लोगों के मकान बन भी गये हैं।
उप मुख्यमंत्री  ने उपस्थित लोगों से कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार का लक्ष्य है, कि गरीब से गरीब व्यक्ति को सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाया जाये। सरकार बिना भेदभाव के सभी लोगों को लाभकारी योजनाओं का लाभ पहुॅचा रही है। सरकार द्वारा प्राथमिक विद्यालयों का कायाकल्प करके  शिक्षा के स्तर को बढ़ाया जा रहा है। प्रत्येक विद्यालय में छात्र एवं छात्राओं के लिए अलग-अलग शौचालयों का निर्माण किया गया है। प्रत्येक विद्यालय में पानी, खेल, शौचालय, पार्क आदि का प्रबंध बेहतरीन तरीके से किया जा रहा है। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि जिन अधिकारियों ने विद्यालयों को गोद लिया है, वह निरंतर जाकर बच्चों को दी जाने वाली सुविधाओं का निरीक्षण करें। उन्होंने कहा कि सरकार की योजना है कि प्रत्येक गांव में टोंटी नल के माध्यम से जल उपलब्ध करायें, जिसके लिए निरंतर कार्यवाही की जा रही है।
श्री मौर्य जी ने कहा कि सरकार सफाई व्यवस्थाओं को दुरूस्त करने के लिए सुबह के साथ-साथ शाम को भी सफाई करा रही है। लोगों से अपील की है वह भी सफाई अभियान में सरकार का साथ दें और अपने कूड़े को नालियों में न फैंक कर उचित स्थान पर ही कूड़ा डालें। हम सब जब अच्छे कार्य करेंगे, उसी से गांव, जनपद, प्रदेश व देश का नाम आगे बढ़ेगा। महिलाओं को सशक्तिकरण के लिए महिला सहायता समूहों को और अधिक मजबूत करने के निर्देश दिये। महिलाओं को अधिक जिम्मेदारी देते हुए उनकी आर्थिक स्थिति को और सुधारा जाये।कहा मथुरा एक धार्मिक नगरी है, यहां देश विदेश से पर्यटक घूमने आते हैं, मथुरा को इतना साफ-सुथरा रखा जाये कि उसकी अच्छी छवि आने वाले श्रद्धालुओं पर भी पड़े।
तत्पश्चात मा0 उप मुख्यमंत्री  द्वारा किसान सेवा सहकारी समिति औरंगाबाद में स्थित गेेंहू क्रय केन्द्र का निरीक्षण किया गया, जिसमें  उन्हें बताया गया कि समिति द्वारा 116 करोड़ का ऋण किसानों को दिलाया गया है। उनके द्वारा गेंहू क्रय केन्द्र के रजिस्टरों का अवलोकन किया गया तथा समिति के अध्यक्ष प्रतिनिधि एवं गेंहू क्रय केन्द्र प्रभारी को आवश्यक दिशा निर्देश दिये और कहा कि किसानों से लगातार संपर्क करते रहें।
श्री मौर्य जी ने प्राईमरी पाठशाला अगनपुरा में आयोजित ग्राम चौपाल में भाग लिया, जहां उन्होंने जनता से सीधा संवाद करते हुए राशन वितरण, प्रधानमंत्री आवास योजना, शिक्षा, स्वास्थ्य, शौचालय, सफाई व्यवस्था तथा किसानों को दी जाने वाली किसान सम्मान निधि की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि जो पात्र किसान आधार कार्ड के कारण अभी लाभ प्राप्त नहीं कर पाये हैं, उसके लिए एक अभियान चलाकर किसानों के आधार कार्ड को लिंक कराया जाये और प्रत्येक दशा में हर पात्र व्यक्ति को उसका लाभ मिले।कहा हमारा देश निरंतर प्रगति कर रहा है, कोविड-19 जैसी बीमारी से निपटने के लिए हमारे वैज्ञानिकों द्वारा वैक्सीन का निर्माण किया गया और केन्द्र सरकार द्वारा प्रत्येक व्यस्क को निरूशुल्क वैक्सीन लगाई गई, अब वैक्सीन बच्चों को भी निरूशुल्क लगाई जा रही है। उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिये कि जनपद के सभी तालाबों को तुरन्त भरवा दिया जाये, जिससे पशु, पक्षी प्यासे न रहे, आमजनता से आंगनबाड़ी केन्द्र से दिये जाने वाले पुष्टाहार की भी जानकारी ली। उन्होंने ग्रामीणों से अपील की कि वह अपने बच्चों को आवश्यक रूप से स्कूल भेजें, शिक्षा हर ताले की चाबी है, इसी के माध्यम से सरकारी एवं प्राईवेट नौकरी प्राप्त की जा सकती है तथा अच्छी तरह से व्यापार भी किया जा सकता है। ग्रामीणों से अपने घर के साथ-साथ आस पास के क्षेत्रों की सफाई व्यवस्था में सहयोग करने, शौचालय का प्रयोग करने का भी अनुरोध किया।
उप मुख्यमंत्री जी ने आंगनबाड़ी केन्द्र में जाकर 05 महिलाओं की गोद भराई की तथा दो बच्चों को खीर खिला कर अन्नप्राशन किया। तत्पश्चात नव निर्मित ग्राम पंचायत में गये, जहां उन्होंने ग्रामीणों की समस्याओं को सुनने के लिए बनाये गये रजिस्टरों का अवलोकन किया। उन्होंने कहा कि इस पंचायत सचिवालय में अधिकारी एवं कर्मचारी आयें और ग्रामवासियों की समस्याओं का समाधान करें।
उप मुख्यमंत्री जी नगर पंचायत गोकुल स्थित कान्हा गौशाला गये, जहां उन्होंने उपस्थित गौवंश को गुड़ व हरा चारा खिलाया। उन्होंने गौशाला में चरी काटने वाली मशीन, भूसा व खल के भण्डार का भी निरीक्षण किया। उप मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि इस गौशाला में 130 गौवंश हैं, जिसमें से 47 नन्दी तथा 83 गौमाता हैं।
प्रदेश के उप मुख्यमंत्री जी के कार्यक्रम में मा0 महापौर डॉ0 मुकेश आर्यबन्धु, विधायक बल्देव पूरन प्रकाश, मांट राजेश चौधरी, गोवर्धन ठा0 मेघश्याम सिंह, जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ0 गौरव ग्रोवर, नगर आयुक्त अनुनय झा, अपर जिलाधिकारी प्रशासन विजय शंकर दूबे, जिला पंचायत राज अधिकारी किरन चौधरी, सभी उप जिलाधिकारी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ब्राह्मण वंशावली

सीतापुर में 19 शिक्षक, शिक्षिकायें बर्खास्त