गन्ना विभाग के अधिकारियों की हुई ऑनलाइन दक्षता परीक्षा

दक्षता परीक्षा में विभाग की कार्यप्रणाली से सम्बन्धित पूॅंछे गये 150 बहुविकल्पीय प्रश्न 

प्रदेश के गन्ना किसानों के हित में किये गये प्रशासनिक सुधारों एवं अनूठी पहलों के लिए सुविख्यात प्रदेश के गन्ना आयुक्त, श्री संजय आर. भूसरेड्डी द्वारा एक और अनूठी पहल करते हुए गन्ना विभाग के अधिकारियों का विभागीय ज्ञान परखने के लिए दिनांक 07 मई, 2022 को विभागीय विषयों से सम्बन्धित ऑनलाइन दक्षता परीक्षा का आयोजन कराया गया। ऑनलाइन विभागीय परीक्षा हेतु श्री रमाकान्त पाण्डेय, प्रबन्ध निदेशक, उ.प्र. चीनी मिल संघ को परीक्षा नियंत्रक का दायित्व सौंपा गया।  

इस सम्बन्ध में विस्तृत रूप से जानकारी देते हुए श्री भूसरेड्डी ने बताया कि गन्ना विकास विभाग के मुख्यालय से जारी होने वाले आदेशों, प्रपत्रों, बुकलेट, पम्पलेट एवं अन्य उपयोगी सूचनाओं व दिशा-निर्देशों का फील्ड स्तर पर गहनता से अध्ययन किया जाता है या नहीं, को परखने के लिए इस परीक्षा का आयोजन कराया गया। ज्ञातव्य है कि गन्ना विकास विभाग द्वारा किसानों के हित में पिछले 05 वर्षों में अनेकों सकारात्मक निर्णय लिये गये, विभिन्न महत्वपूर्ण योजनाएं चलाई गयी। इन योजनाओं के सफल क्रियान्वयन हेतु आवश्यक है कि अधिकारियों को सभी विभागीय प्रपत्रों का विस्तृत ज्ञान हो जिससे गन्ना किसानों का अधिक से अधिक हित किया जा सके। उन्होंने बताया कि मुख्यालय से जारी होने वाले आदेश, प्रपत्र, सूचनाएं, दिशा-निर्देश आदि काफी विस्तृत होते हैं। जिनका अध्ययन किये बिना अथवा इन्हें कंठस्थ किये बिना किसानों को सही सूचनाएं उपलब्ध कराना संभव नहीं हो पाता है। ऐसी स्थिति में परीक्षा का उद्देश्य न केवल अधिकारियों के ज्ञान को परखना है अपितु उन्हें गन्ना किसानों को विभाग से सम्बन्धित समुचित सूचनाएं उपलब्ध कराने हेतु सक्षम बनाना भी है।

उन्होंने बताया कि यह विभागीय परीक्षा दिनांक 07 मई, 2022 को सायंकाल 04ः00 से 06ः00 बजे तक ऑनलाइन माध्यम से आयोजित की गई। 150 प्रश्नों की इस परीक्षा में प्रत्येक सही प्रश्न के लिए 02 अंक एवं गलत उत्तर देने पर ऋणात्मक मार्किंग (01 अंक) का प्राविधान भी किया गया। परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर अधिकारियों की वार्षिक कार्यपटुता रिर्पोट पर विशेष टिप्पणी भी अंकित की जाएगी। ऑनलाइन दक्षता परीक्षा में पूरे प्रदेश से गन्ना विकास विभाग के 231 अधिकारियों द्वारा प्रतिभाग किया गया। ऑनलाइन विभागीय परीक्षा का परिणाम परीक्षा समाप्त होने के 15 मिनट के बाद घोषित कर दिया गया। विभाग के समस्त अधिकारियों द्वारा अच्छा प्रदर्शन किया गया। परीक्षा का सम्पूर्ण परिणाम संतोषजनक रहा जिसमें प्रतिभागी अधिकारियों द्वारा पूर्णांक 300 अंक के सापेक्ष अधिकतम 286 अंक तक प्राप्त किये गये। गन्ना विभाग के अधिकारियों में परीक्षा को लेकर उत्साह की स्थिति रही।
यह भी उल्लेखनीय है कि इस तरह की परीक्षाओं से अधिकारियों के ज्ञान में तो वृद्धि होती ही है साथ ही परीक्षा में शामिल होने के लिए अधिकारियों द्वारा पुराने और नये विभागीय आदेशों , दिशा-निर्देशों, शासनादेशों का अध्ययन भी किया जाता है, जिससे विभागीय कार्यों के दौरान अधिकारियों को गन्ना कृषकों को बेहतर सेवा प्रदान करने एवं उनकी समस्याओं का त्वरित निस्तारण करने में भी सहूलियत होती है। उन्होने यह भी बताया कि गन्ना किसानों को बेहतर सुविधा प्रदान करने एवं अधिकारियों के विभागीय ज्ञान में अभिवृद्धि के दृष्टिगत विभाग द्वारा ऐसी परीक्षाओं का समय-समय पर आयोजन किया जाता रहेगा।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ब्राह्मण वंशावली

सीतापुर में 19 शिक्षक, शिक्षिकायें बर्खास्त