दोषी एक भी न बचे: योगी आदित्यनाथ

ध्यान रखें, निर्दोष का उत्पीड़न न हो

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को टीम 9 की बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिये. इस दौरान सीएम ने कहा कि विभिन्न शहरों में माहौल बिगाड़ने वाले समाज विरोधी तत्वों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाए. ऐसे असामाजिक लोगों के लिए सभ्य समाज में कोई स्थान नहीं है. उन्होंने कहा कि ध्यान रखें, निर्दोष का उत्पीड़न न हो, लेकिन दोषी एक भी न बचे. उन्होंने स्पष्ट कहा है कि कठोरतम कार्रवाई के लिए प्रशासन तैयार रहे.

गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी की पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता नूपुर शर्मा के बयान को लेकर उत्तर प्रदेश के अलग-अलग जिलों में कई जगह हंगामा हुआ. साथ ही बवाल करने की कोशिश की गई. पथराव, आगजनी व लाठीचार्ज हुआ. जिसमें अनेक लोग घायल हुए. फिलहाल, पुलिस ने 100 से अधिक लोगों को अलग-अलग जिलों से गिरफ्तार किया है. यही नहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश पर दंगा करने वालों के मकानों को ध्वस्त करने की कार्रवाई भी शुरू हो गई है. जिसके बाद में मुख्यमंत्री ने आदेश दिया कि प्रत्येक जिले के डीएम को यह स्पष्ट कर दिया जाए कि ऐसी किसी भी अराजक स्थिति से निपटने के लिए पुलिस और प्रशासन पूरी तरह तैयार रहे.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों से कहा कि वे खुफिया तंत्र को भी सक्रिय रखें, ताकि किसी भी तरह की साजिश को समय रहते बेनकाब किया जा सके. संदिग्ध उपद्रवियों पर भी नजर रखी जाए और उनको अंकुश में रखा जाए. यही नहीं मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया है कि पुलिस और प्रशासन किसी निर्दोष को अपने निशाने पर न लें. उपद्रव करने वालों पर ही कड़ी कार्रवाई की जाए।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ब्राह्मण वंशावली