आई पी एल और एन पी सी ने तैयार किए 50 अमृत प्रशिक्षु

लखनऊ।बाराबंकी जनपद के हैदरगढ़ कृषि विज्ञान केन्द्र पर  दो दिवसीय अमृत  इन्टर्नशिप  प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का आयोजन राष्ट्रीय उत्पादकता परिषद और इंडियन पोटाश लिमिटेड द्वारा संयुक्त रूप से किया गया।  प्रशिक्षण प्राप्त अमृत प्रशिक्षकों द्वारा बाराबंकी जनपद के 50 गांवों तीन माह तक कृषि उत्पादकता, स्वच्छता और पर्यावरण जागरूकता अभियान का कार्यक्रम चलाया जाएगा।  24 एवं 25 अगस्त को आयोजित  

प्रशिक्षण में  अमृत प्रशिक्षुओं कृषि उत्पादकता वृद्धि की नवीनतम एवं उन्नत तकनीक की जानकारी दी गई साथ ही प्रगतिशील किसानों का अनुभव भी साझा किया गया। कार्यक्रम में राष्ट्रीय उत्पादकता परिषद के उप निदेशक  कृतिका शुक्ला,सहायक निदेशक आशीष कुमार वर्मा और इंडियन पोटाश लिमिटेड के उप महा प्रबंधक रवी अग्रवाल,उप प्रबंधक धर्मेन्द्र ताल्यान, कुलदीप सिंह,लोकेश जोशी, आर पी सिंह एवं वरुण पाण्डेय आदि में प्रतिभाग किया।

अमृत प्रशिक्षक अपने-अपने गांव में तीन  माह तक उक्त जागरूकता अभियान चलाएंगे। यह सभी 50 प्रशिक्षु बाराबंकी जनपद के ही 50 गांवों से चयनित किये गये हैं।

प्रशिक्षण कार्यक्रम में राष्ट्रीय उत्पादकता परिषद और इंडियन पोटाश लिमिटेड  की संस्था आईपीएल सेंटर फोर रुरल ओऊटरीच (आई सी आर ओ ) ने 2000 किसानों को इस अभियान से जोड़ने का लक्ष्य निर्धारित किया है।आईसीआरओ के निदेशक डॉ राजीव रंजन आईएएस हैं जिनके कुशल नेतृत्व में नवदिशा प्रदान करते हुए ये पहल की गई है

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ब्राह्मण वंशावली

सीतापुर में 19 शिक्षक, शिक्षिकायें बर्खास्त