उत्तर प्रदेश बनेगा इंडस्ट्रीरियल हब

मुख्यमंत्री जी का सपना है कि उत्तर प्रदेश को इंडस्ट्रीरियल हब बनाया जाये। इत्र को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर निर्यात प्रोत्साहन हेतु बढ़ावा दिया जाये। जनपद कन्नौज का इत्र एक जनपद-एक उत्पाद योजना के अन्तर्गत आता है। सरकार का मुख्य उद्देश्य  है कि अर्न्तराष्ट्रीय स्तर पर इसे और अधिक तेजी के साथ बढ़ावा दिया जाये। 

यह बात अपर मुख्य सचिव, सूक्ष्म, लद्यु एंव मध्यम, उद्यम तथा निर्यात प्रोत्साहन, खादी एंव ग्रामोद्योग विभाग तथा सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग, उत्तर प्रदेश शासन श्री नवनीत सहगल ने आज यहॉं कलेक्ट्रेट सभागार जनपद कन्नौज में एक जनपद एक उत्पाद एवं निर्माणाधीन इत्र पार्क की समीक्षा बैठक के दौरान कही। उन्होनें कहा कि इत्र पार्क आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे एंव निर्माणाधीन अलीगढ़ कानपुर नेशनल हाईवे तथा कुछ ही दूरी पर निर्माणाधीन गंगा एक्सप्रेस-वे के सम्पर्क में है। इससे इत्र से संबंधित शोधार्थियों एंव पर्यटकों के आवागमन हेतु सुविधाजनक होगा। उन्होनें कहा कि माह जनवरी में लखनऊ एंव कन्नौज में अन्तर्राष्ट्रीय परफ्यूम क्रान्फ्रेस का आयोजन किया जायेगा।
श्री सहगल ने निर्माणाधीन इत्र पार्क की समीक्षा करते हुये कहा कि माह अक्टूबर में निर्माण कार्य पूर्ण करना सुनिश्चित करें, जिससे माह नवम्बर में इत्र पार्क का लोकार्पण कराया जा सके। उन्होनें कहा कि निर्धारित समय सीमा के अन्दर निर्माण कार्य पूर्ण कराये अन्यथा निर्माण कार्य में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों की जिम्मेदारी सुनिश्चित की जायेगी। उन्होंने कहा कि इत्र पार्क में इस प्रकार के प्लांट लगाये जाए, जो इत्र के लिये बहुउपयोगी हो। श्री सहगल ने बताया कि डी काम्पलैक्स के लिये भूमि का आवंटन उद्योग विभाग द्वारा किया जायेगा। इत्र पार्क को और अधिक विस्तार किये जाने हेतु जिला प्रशासन द्वारा 30 एकड़ भूमि उपलब्ध करायी जायेगी। उन्होनें कहा कि इत्र पार्क में इत्र थीम पर आधरित हाई मास्क/स्ट्रीट लाईटों की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। इत्र उद्यमियों को पर्याप्त गैस की उपलब्धता हेतु पाइप लाइन का कार्य सुनिश्चित किया जाये, जिससे उद्यमियां को किसी भी प्रकार की कठिनाईयों का सामना न करना पड़े। उन्होनें कहा कि इत्र पार्क के पास शोरूम की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाये, जिससे बाहर से आने वाले व्यक्तियों के लिए आकर्षण का केन्द्र बिन्दु बने।
अपर मुख्य सचिव ने कहा कि एक्प्रीरिमेंट टूरिज्म को बढ़ावा दिया जाये तथा इत्र पार्क के साथ ही पर्यटन पार्क, इंड्रस्टी पर भी ध्यान दिया जाये। उन्होनें पैकेजिंग, मार्केटिंग, और कच्चे माल पर विस्तार से चर्चा करते हुये कहा कि पैकेजिंग को और अधिक सौन्दर्यीकरण किया जाये जिससे दिखने में आकर्षण लगे, तथा इत्र के मार्केटिंग के लिये डिजीटल इंडिया के अन्तर्गत इलेक्ट्रानिक कॅामर्स की प्रतिष्ठित वेबसाइट अथवा पोर्टल के माध्यम से व्यवसाय को और अधिक बढ़ावा दिया जाये। उन्होनें कहा कि आत्मनिर्भर भारत के तहत युवाओं को इत्र व्यवसाय से बेहतर रोजगार के अवसर प्रदान होगें, युवाओं को और अधिक प्रशिक्षण देकर इत्र व्यवसाय हेतु सुदृढ़ किया जाये। उन्होंने कहा कि सी 40 लैब की स्थापना होने से युवा पीढ़ी प्रशिक्षित होगी। उन्होनें कहा कि 250 करोड़ के कारोबार को 250 हजार करोड़ का लक्ष्य पर निरन्तर अग्रसर होकर कार्य किया जायेगा। इससे अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर इत्र की पहचान होगी। फ्रांस के मा0 राष्ट्रपति जी को भारत के मा0 प्रधानमंत्री जी द्वारा कन्नौज के उद्यमियों द्वारा विशेष प्रकार का इत्र भेंट किया है।
श्री नवनीत सहगल ने कहा कि प्रदेश/देश/विदेश स्तर पर व्यापार मेला में प्रतिभाग करने के लिये एक-एक इत्र उद्यमियों को इकोनामी क्लास की यात्रा पर कुल व्यय का 75 प्रतिशत अधिकतम 75,000/- का भुगतान सरकार द्वारा किया जायेगा तथा उत्पादन स्थल से प्रदर्शनी स्थल तक विक्रय हेतु माल ढुलाई पर कुल व्यय का 75 प्रतिशत व्यय भी सरकार द्वारा किया जायेगा।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ब्राह्मण वंशावली

सीतापुर में 19 शिक्षक, शिक्षिकायें बर्खास्त