खुशी दूबे को मिली खुशी


नई दिल्ली। कानपुर के बहुचर्चित बिकरू हत्याकांड में आरोपी अमर दुबे की पत्नी खुशी दुबे को सुप्रीम कोर्ट ने आज सशर्त जमानत दे दी। इससे पहले इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उन्हें जमानत देने से इनकार कर दिया था। सर्वोच्च अदालत ने खुशी दुबे को जमानत देते हुए कहा कि घटना के वक्त उनकी उम्र सिर्फ 17 साल की थी। मामले में ट्रायल शुरू हो चुका है, ऐसे में उन्हें हवालात में रखने का कोई औचित्य नहीं है। बता दें कि दो साल पहले हुए कानपुर के बिकरू कांड में 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे। मामले के मुख्य आरोपी विकास दुबे को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया था। बता दें क‍ि सुनवाई से पहले उत्तर प्रदेश सरकार ने खुशी दुबे की जमानत का विरोध करते हुए अपना जवाब सुप्रीम कोर्ट में दाख‍िल किया था। बता दें क‍ि खुशी दुबे ब‍िकरू कांड में जमानत पाने वाली पहली आरोप‍ित हैं।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ब्राह्मण वंशावली

मिर्च की फसल में पत्ती मरोड़ रोग व निदान

सीतापुर में 19 शिक्षक, शिक्षिकायें बर्खास्त